Home » Industry » StartupsCar runs on water

पेट्रोल की चिंता खत्म, पानी से दौड़ेगी कार, माइलेज 300 किमी प्रति लीटर

एक चार्चिंग से तय करेगी एक हजार किमी. का सफर

1 of

नई दिल्ली. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) रूड़की के स्टूडेंट के एक अविष्कार ने असंभव को सच कर दिखाया। पानी से चलने वाली कार बनाकर स्टूडेंट ने सपने को हकीकत साबित कर दिया। ये कार न सिर्फ सस्ते इंधन से चलेगी, बल्कि पर्यावरण पर सकरात्मक असर डालेगी। 

 

एक लीटर पानी से चलेगी 300 किमीं. 

इस कार को पानी और एल्युमिनियम प्लेट  की मदद से चलाया जाएगा। इसे सिंगल चार्ज से एक हजार किमीं. तक चलाया जा सकेगा। वहीं, इससे ज्यादा दूरी के लिए एल्युमिनियम प्लेट को दोबारा चार्ज करना होगा। इस पूरी चार्जिग प्रक्रिया में 15 मिनट का समय लगेगा। कार को पर्याप्त ऊर्जा देने के लिए प्रत्येक 300 किमी. की दूरी के लिए एक लीटर पानी की जरूरत होगी। मतलब एक लीटर कार पर कार 300 किमी. प्रति लीटर का माइलेज देगी। कार में लगने वाली एल्युमिनियम प्लेट की कीमत 5 हजार रुपए होगी। लेकिन भविष्य में डिमांड बढ़ने पर इसकी लागत में कमी की संभावना जताई गई है। 

 

आगे पढ़े- कार की जारी है टेस्टिंग

 

 

कार की जारी है टेस्टिंग

कार अभी अपने शुरुआती चरण में है। इसके कॉमर्शियल प्रयोग के लिए अभी टेस्टिंग चालू है। ऐसे में अब पानी से कार चलाने की कोशिश कामयाब होती दिख रही है।  कार फ्यूल सेल टेक्नोलॉजी पर चलती है। इसमें एल्युमिनियम प्लेट पानी के साथ केमिकल रिएक्शन करके एनर्जी जनरेट करती है और इसे इलेक्ट्रिक मोटर को भेजती है। 

 

आगे पढ़ें-कार बनाने का कहां से मिला आइडिया

 

कार बनाने का कहां से मिला आइडिया

पानी से चलने वाली कार बनाने का आइडिया एक स्टार्टअप Log9 से आया। इसकी शुरुआत दो साल पहले की गई थी। इसमें ऐसी बैटरी बनाई गई जो कि पानी और एल्युमिनियम से एनर्जी पैदा करती हैं। Log9 के सीईओ अक्षय सिंघल ने इस आविष्कार के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि उनकी इस मामले में ऑटोमोबाइल कंपनियों से बातचीत चल रही है। उनकी ओर से कार का प्रोटोटाइप तैयार कर लिया गया है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट