विज्ञापन
Home » Industry » Service SectorYou can earn 60 thousand rupees per month by opening vakrangee kendra

Opportunity / वक्रांगी के साथ जुड़कर करिए खुद का कारोबार, हर महीने कमा सकते हैं 60 हजार रुपए

बैंकिंग के साथ ई-कॉमर्स की सेवाएं देती हैं वक्रांगी, इस साल खोले जाएंगे 2500 केंद्र

1 of

नई दिल्ली। ई-गवर्नेन्स के क्षेत्र की अग्रणी कंपनी वक्रांगी अगले साल के अंत तक देश भर में दो लाख 65 हजार ग्राम पंचायतों में अपने केन्द्रों की स्थापना करेगी। कंपनी के कार्यकारी अध्यक्ष दिनेश नंदवाणा ने गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ढाई दशकों से ई-गवर्नेन्स के क्षेत्र में कार्यरत वक्रांगी की योजना देश के ग्रामीण अंचलों में आउटलेट खोलने की है जिसके जरिए लोगों को एक छत के नीचे बैंकिंग, एटीएम, एसिस्टेड ई-कॉमर्स यानी ऑनलाइन शॉपिंग, ई-गवर्नेन्स, वित्तीय सेवाएं और यात्रा सेवा की सुविधा उपलब्ध रहेगी। 

2021-22 में 75 हजार वक्रांगी केंद्र खोलने की योजना
दिनेश नंदवाणा ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 762 नेक्स्टजेन वक्रांगी केंद्रों ने काम करना शुरू कर दिया है और इसके अनुकूल परिणाम सामने आने लगे हैं। यह सभी केंद्र सूबे के 549 ग्राम पंचायत में बसे है। कंपनी ने बहाराइच, बलरामपुर, चंदौली, चित्रकूट, फतेहपुर, श्रावस्ती और सिध्दार्थनगर में यह केंद्र शुरू किए हैं। देश के 20 राज्यों के 340 से अधिक ज़िलों में 3504 वक्रांगी केंद्र हैं। चालू वित्तीय वर्ष में कम से कम 2500 वक्रांगी केंद्रों की शुरूआत की योजना है, जबकि 2020-21 तक यह संख्या 4500 और 2021-22 में इन केंद्रों की संख्या 75000 तक ले जाने की योजना है। नंदवाणा ने कहा कि 19 राज्यों की तुलना में उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक नेक्स्ट जेन वक्रांगी केंद्र कार्यान्वित है।  इन सेवाओं के लिए हमनें कई मशहूर संस्थाओं के साथ गठजोड किया है जिससे बैंकिंग, एटीएम, बीमा, वित्तीय सेवा, ई-कॉमर्स, ई-गवर्नेंन्स और यात्रा सेवाएं और उत्पादन की सेवाएं ग्राहकों को दी जा सकें। 

ऐसे करें आवेदन


यदि आप वक्रांगी के साथ जुड़कर खुद की फ्रेंचाइजी लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको  https://vkms.vakrangee.in/NextgenFranchiseeEnquiry.jsp पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। यदि कंपनी की ओर से आपके प्रोफाइल का चयन कर लिया जाता है तो खुद ही आपसे संपर्क किया जाएगा। इसके बाद वक्रांगी केंद्र खोलने की प्रक्रिया आगे बढ़ेगी। वक्रांगी केंद्र खोलने के लिए कम से कम 12 तक की पढ़ाई जरूरी है। ग्रेजुएट, प्रोफेशनल डिग्री होल्‍डर, बैंक मैनेजर, सेल्‍स या बिजनेस बैकग्राउंड वाले, इंश्‍योरेंस एजेंट, स्‍टोर मैनेजर, एक्‍स आर्मी ऑफिसर, एडमिनिस्‍ट्रेशन बैकग्रांउड वाले, महिला उद्यमियों और स्‍पेशली एबल्‍ड लोगों को वरीयता दी जाती है। आप वक्रांगी केंद्र खोलने की पूरी जानकारी http://www.vakrangee.in/data/advertisement/Nextgen%20Vakrangee%20Kendra%20Franchisee%20Presentation.pdf पर जाकर ले सकते हैं। 

वक्रांगी केंद्र पर मिलती हैं यह सुविधाएं

 

ई-गवर्नेंस- रेल टिकट बुकिंग, बीबीपीएस से हर तरह के बिल का पेमेंट, जीएसटी व अन्‍य ई-गवर्नेंस सर्विस। जल्‍द ही इन पर पैन कार्ड सर्विस भी शुरू होने वाली है।  

बैंकिंग- लोन अप्‍लाई, क्रेडिट कार्ड अप्‍लाई, अटल पेंशन योजना, पीएम जीवन ज्‍योति योजना जैसी सोशल सिक्‍योरिटी स्‍कीम का लाभ ले सकते हैं, बैंक अकाउंट ओपनिंग, कैश विदड्रॉल व डिपॉजिट, फंड ट्रान्‍सफर, आईएमपीएस 

ई-कॉमर्स- मोबाइल या डीटीएच रिचार्ज, जियो कनेक्‍शन, महिन्‍द्रा से ऑटोमोबाइल या ऑटो पार्ट्स की बुकिंग, अमेजन पर प्रॉडक्‍ट बुकिंग, गोल्‍ड ज्‍वेलरी व गोल्‍ड कॉइन, मोबाइल हैंडसेट्स, फार्मेसी प्रॉडक्‍ट्स की खरीद, बी2बी के तहत रिटेलर्स को होलसेल में प्रॉडक्‍ट की बिक्री

इंश्‍योरेंस- लाइफ इंश्‍योरेंस, जनरल इंश्‍योरेंस (मोटर /व्‍हीकल/ट्रैवल आदि), हेल्‍थ इंश्‍योरेंस 

एटीएम- कैश ट्रान्‍जेक्‍शन, बैलेंस इन्‍क्‍वायरी, पिन चेंज, मिनी स्‍टेटमेंट, फंड ट्रान्‍सफर, आधार सीडिंग, कार्ड टू कार्ड ट्रान्‍सफर, चेक बुक रिक्‍वेस्‍ट, मोबाइल बैंकिंग रजिस्‍ट्रेशन, स्‍टेटमेंट रिक्‍वेस्‍ट   

लॉजिस्टिक्‍स- कुरियर बुकिंग सर्विसेज, डिलीवरी सर्विसेज, रिवर्स लॉजिस्टिक्‍स सर्विेसेज, स्‍टोर पिकअप सर्विसेज

हर महीने होगी 60 हजार रुपए तक की कमाई


https://vakrangee.in पर मौजूद जानकारी के अनुसार, सिल्वर और गोल्ड दो तरह के वक्रांगी केंद्र खोले जाते हैं। सिल्‍वर वक्रांगी केंद्र से आप हर महीने करीब 60 हजार रुपए का कारोबार कर सकते हैं। इसमें से 32 हजार रुपए की ऑपरेशन लागत निकालकर 28 हजार रुपए का मुनाफा कमा सकते हैं। इसी प्रकार गोल्ड केंद्र से आप हर मीने 1.52 लाख रुपए तक का कारोबार कर सकते हैं। इसमें से 92 हजार रुपए की ऑपरेशन लागत निकालकर 60 हजार रुपए का मुनाफा कमा सकते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss