विज्ञापन
Home » Industry » Service Sectormeerut to get rapid rail gift today

अब 60 मिनट से भी कम समय में दिल्ली से मेरठ पहुंचेंगे आप, जल्द शुरू होगी रैपिड रेल

इस परियोजना से मिलेगा लाखों लोगों को फायदा

meerut to get rapid rail gift today

meerut to get rapid rail gift today दिल्ली से मेरठ जाने वाले यात्रियों को जल्द ही बड़ी खुशखबरी मिलने की उम्मीद है। दिल्ली-मेरठ के बीच रैपिड रेल को मंजूरी मिलने की संभावनाएं जताई जा रही है। रैपिड रेल को मंजूरी मिलने से दिल्ली और मेरठ के बीच की यात्रा गुड़गांव या नोएडा में गाड़ी चलाने जितनी आसान हो जाएगी। यह परियोजना राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम द्वारा शुरू की जाएगी।  दिल्ली-मेरठ के बीच चलते वाली यह ट्रेन 160 किलोमीटर की रफ्तार से चलती है जिससे यात्री 60 मिनट से भी कम समय में  दिल्ली से मेरठ पहुंच जाएंगे। 

नई दिल्ली। दिल्ली से मेरठ जाने वाले यात्रियों को जल्द ही बड़ी खुशखबरी मिलने की उम्मीद है। दिल्ली-मेरठ के बीच रैपिड रेल को मंजूरी मिलने की संभावनाएं जताई जा रही है। रैपिड रेल को मंजूरी मिलने से दिल्ली और मेरठ के बीच की यात्रा गुड़गांव या नोएडा में गाड़ी चलाने जितनी आसान हो जाएगी। यह परियोजना राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम द्वारा शुरू की जाएगी।  दिल्ली-मेरठ के बीच चलते वाली यह ट्रेन 160 किलोमीटर की रफ्तार से चलती है जिससे यात्री 60 मिनट से भी कम समय में  दिल्ली से मेरठ पहुंच जाएंगे। 

 

बजट में NCRTC को 1000 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं


केंद्रीय बजट 2019 में मोदी सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम (NCRTC) को 1000 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं, जिससे  देश की पहली क्षेत्रीय रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (RRTS) परियोजना को शुरू किया जाएगा। NCRTC ने दावा किया है कि वह दिल्ली-मेरठ क्षेत्रीय रैपिड रेल गलियारे का निर्माण करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। एनसीआरटीसी के अनुसार, वह भू-तकनीकी जांच, सड़क चौड़ीकरण कार्य, उपयोगिता मोड़, प्रारंभिक पाइल लोड परीक्षण जैसी पूर्व-निर्माण गतिविधियों की पहल कर चुकी है।

 

पिछली बार भी पीआईबी की बैठक में आया था दिल्ली- मेरठ रैपिड रेल का प्रस्ताव


परियोजना को वित्तीय मंजूरी देने के लिए वित्त मंत्रालय के तहत पब्लिक इन्वेस्टमेंट बोर्ड बुधवार को बैठक करने जा रहा है। उम्मीद है कि बैठक में इस परियोजना पर मुहर लग सकती है। अगर पीआईबी मंजूरी देती है तो कैबिनेट से भी जल्द मंजूरी मिलने की संभावना है। माना जा रहा है कि बुधवार को होने वाली इस बैठक में दिल्ली से मेरठ जाने वाले लोगों को बड़ा तोहफा मिल सकता है। दिल्ली और मेरठ के बीच बनने वाली हाई स्पीड रैपिड रेल का प्रस्ताव पिछली बार भी पीआईबी की बैठक में आया था, लेकिन उसे मंजूरी देने की बजाय इस प्रस्ताव के बारे में रेल मंत्रालय, नीति आयोग ओर रोड परिवहन मंत्रालय से राय मांगी गई थी। परिवहन मंत्रालय से यह भी कहा गया था कि क्या रैपिड रेल के विकल्प के तौर पर दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे पर क्या एक्सप्रेस बसें चलाई जा सकती हैं। जानकारों का कहना है कि नीति आयोग और दोनों मंत्रालयों ने अपनी अपनी राय पीआईबी को भेज दी है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन