Advertisement
Home » Industry » Service Sectorcollege dropout due to financial problems

पैसों की कमी से नहीं छोड़नी पड़ेगी पढ़ाई, केंद्र सरकार की इस योजना का उठा सकते हैं फायदा

अभिवावक की आय साढ़े चार लाख रुपए होने पर किया जा सकता है आवेदन

college dropout due to financial problems

नई दिल्ली. देश में हर साल लाखों की संख्या में स्टूडेंट हॉयर एजुकेशन छोड़ देते है। इनमें से कई छात्रों के स्कूल छोड़ने की वजह पैसों की कमी सामने आती है। केंद्र सरकार की ओर से काफी पहले से ऐसे स्टूडेंट्स के लिए एजुकेशन लोन की व्यवस्था की गई है। लेकिन कई बार स्टूडेंट्स की शिकायत रहती है कि बैंक एजुकेशन लोन के नाम पर उन्हें परेशान करने का काम करते हैं। स्टूडेंट की इन्हीं परेशानियों को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने हाल ही में एक स्कीम शुरु की। इस योजना के तहत अब घर बैठे एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई किया जा सकेगा। सरकार ने www.vidyalakshmi.co.in पाेर्टल शुरू किया है, जहां स्टूडेंट्स एक साथ तीन बैंकों में एजुकेशन लोन के लिए आवेदिन कर सकते हैं और इस लोन को नौकरी मिलने के बाद चुका सकते हैं। 

 

सरकारी बैंकों से ही मिलेगा लोन 

यह स्कीम मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा संचालित होती है। जिन स्टूडेंट्स के अभिभावकों की आय साढ़े चार लाख रुपए है, वो इस स्कीम के तहत एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसमे एक बार में करीब साढ़े सात लाख रुपए का लोन मिल जाएगा। इन पैसों से ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट या इंटीग्रेटेड कोर्स कर सकते हैं। लोन केवल सरकारी बैंकों से ही मिलेगा। 

 

क्या लगेंगे दस्तावेज
इस प्लेटफॉर्म पर आवेदन करने के लिए एक आईडी प्रूफ और फोटो की जरूरत होगी। इसके साथ ही एक एड्रेस प्रूफ, माता-पिता की इनकम का सर्टिफिकेट लेगा। साथ ही आपके एजुकेशन क्वॉलिफिकेशन की डिटेल जैसे हाईस्कूल, इंटरमीडिएट की मार्कशीट की फोटोकॉपी देनी होगी। इसके बाद जिस कॉलेज या इंस्टीटूयूट में पढ़ाई करना चाह रहे हैं। वहां के एडमिशन लेटर की जरूरत होगी। साथ ही कोर्स कितने वर्षों का है और कितनी फीस लगेगी इसके बारे में भी जानकारी देनी होगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement