विज्ञापन
Home » Industry » Service SectorKumbh mela 2019

ताजमहल की सालाना कमाई के बराबर कुंभ की एक दिन की है आमदनी

शिवरात्रि पर अंतिम स्नान के साथ खत्म हुआ कुंभ 2019

Kumbh mela 2019

Kumbh mela 2019: कुंभ मेले का आज आखिरी दिन है। बता दें कि इस बार का कुंभ मेला कई मायनों  में अहम रहा। कमाई की बात करें, तो कुंभ मेले से रोजाना 15 करोड़ रुपए तक की आमदनी हुई है, जो ताजमहल की एक साल की औसत कमाई के बराबर है।

नई दिल्ली. कुंभ मेले का आज आखिरी दिन है। बता दें कि इस बार का कुंभ मेला कई मायनों  में अहम रहा। कमाई की बात करें, तो कुंभ मेले से रोजाना 15 करोड़ रुपए तक की आमदनी हुई है, जो ताजमहल की एक साल की औसत कमाई के बराबर है। आज शिवरात्री पर्व पर अंतिम स्नान के साथ कंभ मेले का समापन हो रहा है। 

 

यूपी के सभी स्मारकों से सालभर में हुई 584 करोड़ रुपए की कमाई 

आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) की रिपोर्ट के मुताबिक ताजमहल से साल 2013-14 और 2014-15 में कुल 43 करोड़ रुपए की कमाई हुई। ऐसे में ताजमहल की एक साल की औसत कमाई लगभग 21 करोड़ रुपए है। ASI की ओर से उत्तर प्रदेश के 16 स्मारकों को चिन्हित किया गया है, जिनकी कुल सालभर की कुल कमाई करीब 42 करोड़ रुपए है। अगर बात देश के कुल 116 स्मारकों की कमाई की करें, तो यह रकम करीब 584.87 करोड़ रुपए हो जाती है।
 

कुंभ में 10 अरब रुपए का हुआ करोबार

कुम्भ मेले के दौरान लगभग 10 लाख कल्पवासी प्रयागराज में प्रतिदिन रहे। इसके साथ ही लगभग 10 लाख लोगों का रोजाना आना जाना हुआ। लोगों के आने-जाने ठहरने, खाने-पीने का औसत खर्च भी अगर 500 रुपए मान लिया जाए तो कम से कम 10 अरब रुपए का कारोबार हुआ है। 

 

होटल और ट्रैवल सेक्टर में हुई खूब कमाई 

होटल व्यापारियों की सबसे ज्यादा बल्ले बल्ले रही। होटलों के सारे कमरे बुक रहे। खुद होटल व्यापारियों का मानना है कि दो से तीन करोड़ रुपए के बीच का कारोबार रोज का रहा। इसके साथ ही टूर एंड ट्रैवेल्स वालों की ओर से भी खूब कमाई हुई है। टूर एंड ट्रैवेल्स की जो भी गाड़ियां मेले के दौरान आईं उनकी खूब कमाई हुई। आठ से 10 रुपए प्रतिकिलोमीटर का रेट रखने वाले वाहनों की कमाई मेले के दौरान 12 से 14 रुपए प्रतिकिलोमीटर के रेट पर हुई। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss