विज्ञापन
Home » Industry » Service SectorKeep These Things In Mind To Increase Life Of Your AC And Save Money

गर्मियों में ऐसे रखें अपने AC का खयाल, पैसे भी बचेंगे और एसी की लाइफ भी बढ़ेगी

इन बातों को नजरंदाज करना आपकी जेब पर भारी पड़ सकता है।

1 of

नई दिल्ली.

गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है। आपने भी अपना AC चलाना शुरू कर दिया होगा। सभी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज समय-समय पर मेंटेनेंस मांगती हैं। ऐसे में अगर आप अपने चाहते हैं कि आपका एसी इस साल ही नहीं, बल्कि आने वाले कई सालों तक अच्छी स्थिति में रहे, तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। अगर आपने इन बातों को नजरंदाज किया तो यह आपकी जेब पर भारी पड़ सकता है।

 

फिल्टरों को समय-समय पर करते रहें साफ

एसी को दुरुस्त रखने के लिए सबसे जरूरी काम है एसी के फिल्टर्स को समय-समय पर बदलना या साफ करते रहना। गंदगी जमे फिल्टर्स हवा का बहाव रोकते हैं और एसी अपनी पूरी क्षमता के मुताबिक काम नहीं कर पाता है। फिल्टर जाम होने की स्थिति में फिल्टर से पास होने वाली हवा में गंदगी हो सकती है जो इवेपोरेटर कॉयल में घुसकर उसकी गर्मी सोखने की क्षमता को कम कर सकती है। अगर आप गंदा फिल्टर हटाकर नया फिल्टर लगाते हैं तो एसी की बिजली खपत 5 से 15 फीसदी तक कम हो जाती है।

 

यह भी पढ़ें- सिर्फ 30 हजार लगाकर हर महीने 1 लाख रुपए कमाने का मौका, चूक न जाए कंपनी का यह ऑफर

खुद न बनें इंजीनियर

गर्मियों में एसी चालू करने से पहले अधिकतर लोग खुद ही उसकी सफाई में लग जाते हैं। यह सिर्फ बाहरी कवर पर चढ़ी धूल हटाने तक सीमित हो, तो ठीक है, लेकिन कई बार लोग एसी के अंदर भी खुद ही सफाई करने जुट जाते हैं। ऐसे मामले भी सामने आए हैं जब लोगों ने अपने विंडो एसी को खुद ही पानी से धो दिया है। ऐसा करना खतरनाक साबित हो सकता है। इससे एसी की मोटर और पीसीबी में पानी जा सकता है और इससे वह खराब हो सकती है। ऐसे में बाद में आपको आपनी जेब बहुत ज्यादा ढीली करनी पड़ सकती है।

 

कहां से कराएं सर्विसिंग

आपका एसी वॉरंटी में हो या न हो, सर्विसिंग हमेशा उसी कंपनी के टेक्निशन से करानी चाहिए। अनऑथराइज्ड एसी मैकेनिक आपके एसी में लोकल पार्ट्स डाल देंगे और आपको पता भी नहीं चलेगा। इससे आपका एसी ज्यादा समय तक पर्फोमेंस नहीं दे पाएगा। सभी कंपनियां एसी सर्विसिंग की सुविधा देती हैं। अगर कंपनी की सर्विस उपलब्ध न हो पाए तो ऑनलाइन ऑथराइज्ड एसी मैकेनिक मिल जाएंगे।

 

यह भी पढ़ें- Bahubali के टोटल बजट से भी 200 करोड़ रुपए ज्यादा है Game of Thrones के आखिरी सीजन का बजट

गैस पर ध्यान देना जरूरी

एसी सर्विस के दौरान यह ध्यान देना भी जरूरी है कि टेक्निशन कौन-सी गैस उसमें भर रहा है। दरअसल, इस समय भारत में दो तरह की गैस (R32 और R22) एसी में भरी जाती हैं। इन दोनों तरह की गैसों को पर्यावरण के लिहाज से सुरक्षित माना गया है। स्प्लिट एसी में R32 और विंडो एसी में R22 लेवल की गैस भरी जाती है। अगर मकैनिक या टेक्निशन किसी और लेवल की गैस भर रहा है तो आप उसे रोक सकते हैं। गैस का लेवल उसके कंटेनर पर लिखा रहता है। एक टन के एसी में करीब 600-700 ग्राम गैस भरी जाती है। इसकी कीमत 2000 से 4000 रुपए के बीच होती है। हालांकि कंपनी, दूसरे टेक्निशन और लोकल मकैनिक की ओर से कीमत में बदलाव मुमकिन है।

 

सर्विस चार्ज पर करें मोलभाव

किसी भी प्रकार के एसी की सर्विस कराने से पहले मकैनिक से सर्विस चार्ज को लेकर मोलभाव जरूर कर लें। वहीं कंपनी के कॉल सेंटर से भी चार्ज की जानकारी ले लें। अगर एसी एक जगह से दूसरी जगह शिफ्ट करा रहे हैं तो इसका भी चार्ज मालूम कर लें। कंपनी की ओर से सर्विसिंग और इंस्टॉलेशन चार्ज तय होता हैं और इसके लिए वह बाकायदा आपको बिल भी देती है।

 

यह भी पढ़ें- अमीर बनना चाहते हैं, तो फॉलो करें ये सात टिप्स, करोड़पति बनने से कोई नहीं रोक सकता

इन बातों का रखें ध्यान

- कई बार बाहरी मकैनिक आपकी जेब ढीली कराने के लिए नाजुक पुर्जों को जानबूझकर डैमेज कर देते हैं। ऐसे में आप मजबूरी में उनसे ही रिपेयर कराएंगे और उनका बिल बढ़ जाएगा।

- सर्विस में भी कुछ मकैनिक गैस पाइप को ढीला कर देते हैं। इससे धीरे-धीरे गैस निकलती रहती है। बाद में वही मकैनिक गैस लीकेज की समस्या बताकर पैसा वसूल लेता है।

- इसलिए टेक्निशन या मकैनिक के सामने सबसे पहले एसी चलवाएं और देखें कि क्या वह सही तरह से काम कर रहा है। इसके बाद में वह जानबूझकर कोई नुक्स नहीं निकाल पाएगा।

 

यह भी पढ़ें- चुनाव प्रचार के लिए भाजपा ने किराए पर लिए 30 हेलीकाॅप्टर-12 प्राइवेट जेट, कांग्रेस से पांच गुना ज्यादा

 

- अगर जरूरी हो तो टेक्निशन या मकैनिक से एसी को प्रेशर के साथ पानी से जरूर साफ करवाएं। पानी से सफाई के दौरान ध्यान रखें कि टेक्निशन के पास एसी की संकरी जगह तक पहुंचने वाले ब्रश भी हों। इनके जरिए वह सफाई ज्यादा अच्छी तरह से कर सकेगा।

- एसी के मोटराइज्ड पार्ट जैसे- फैन आदि में अगर ऑयल डलवाना जरूरी हो तो इसके लिए स्प्रे नोजल यूज करने को कहें। इससे ऑयल तेजी से उन जगहों तक पहुंच जाता है जहां पुरानी स्टाइल की बोतलों से ऑयल पहुंचाना मुश्किल होता है।

 

यह भी पढ़ें- चीन के सबसे अमीर आदमी ने दिया सफलता का ऐसा मंत्र, जिसकी दुनियाभर में हो रही आलोचना

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Recommendation
विज्ञापन
विज्ञापन