विज्ञापन
Home » Industry » Service SectorJM Financial files application with NCLT against Hotel Leela Venture

3000 करोड़ के कर्ज में फंसी लीला पर आया संकट, दिवालिया होने का खतरा मंडराया

सबसे बड़े कर्जदाता ने लॉ ट्रिब्यूनल में दायर की याचिका

1 of

नई दिल्ली। कर्ज में डूबी देश की बड़ी होटल कंपनियों में शुमार होटल लीला वेंचर्स पर संकट के बाद मंडराने लगे हैं।  होटल लीला वेंचर्स की ओर से मंगलवार को दी गई जानकारी के अनुसार, उसके बड़े कर्जदाताओं में शुमार जेएम फाइनेंशियल रिकंसट्रक्शन कंपनी ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल की मुंबई शाखा में याचिका दायर की है। यह याचिका इंसोल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड 2016 के सेक्शन 6 के तहत दायर की है। 

जेएम को इक्विटी शेयर देने के प्रस्ताव को नहीं मिली मंजूरी
पिछले साल जून में होटल लीला वेंचर्स के बोर्ड ने अपने सबसे बड़े कर्जदाता जेएम फाइनेंशियल को करीब 125 करोड़ इक्विटी शेयर देने का प्रस्ताव तैयार किया था। इस प्रस्ताव के अनुसार, इन इक्विटी शेयरों को देने के बाद जेएम फाइनेंशियल की होटल लीला वेंचर्स में हिस्सेदारी 26 फीसदी से बढ़कर 75 फीसदी हो जाती। लेकिन 20 अगस्त को हुई कंपनी की एनुअल जनरल मीटिंग में इस प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिली थी।
 

होटल लीला वेंचर्स पर है 3000 करोड़ से ज्यादा का कर्ज


होटल लीला वेंचर्स की ओर से मंगलवार को जारी किए गए एक नोट में कहा गया है कि वह निवेशकों के साथ जुड़े सभी मामलों को सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध है। होटल लीला वेंचर्स दिल्ली, चेन्नई, उदयपुर, गुरुग्राम और बेंगलुरु में होटल्स का संचालन करती है और कंपनी पर करीब 3000 करोड़ रुपए का कर्ज है। 

Brookfield के साथ मिलकर होटल लीला को खरीद सकती है जेएम फाइनेंशियल

 

हालांकि, कुछ रिपोर्ट में कहा गया है कि कनेडियन कंपनी Brookfield Asset Management ने जेएम फाइनेंशियल के साथ मिलकर होटल लीला वेंचर्स को खरीदने के लिए 4500 करोड़ रुपए का प्रस्ताव तैयार किया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन