Home » Industry » Service Sectorkerala flood affects tourism industry

इस सीजन केरल घूमना होगा मुश्किल, बाढ़ ने बढ़ाई टूरिज्म इंडस्ट्री की मुश्किलें..

केरल में अगले दो हफ्तों की करीब 50 से 80 फीसदी बुकिंग कैंसल हो चुकी हैं।

kerala flood affects tourism industry

नई दिल्ली. केरल में मूसलाधार बारिश और बाढ़ की स्थिति गंभीर होने के कारण इस सीजन केरल घूमना आसान नहीं होगा। केरल में आई बाढ़ का सबसे ज्यादा बुरा असर टूरिज्म सेक्टर पर पड़ा है। ट्रैवल इंडस्ट्री के मुताबिक, बारिश और बाढ़ की संभावनाओं के कारण यहां बीते दो हफ्ते से कोई भी ट्रैवल एक्टिविटी नहीं हुई है। केरल में अगले दो हफ्तों की करीब 50 से 80 फीसदी बुकिंग कैंसल हो चुकी हैं। बाढ़ के कारण टूर ऑपरेटर भी इस महीने केरल नहीं जाने की सलाह दे रहे हैं।

 

बुकिंग हुई कैंसल

 

इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट ई एम नजीब ने moneybhaskar.com को बताया कि केरल में 14 जिलों में भारी बारिश और बाढ़ की स्थिति के कारण 2 हफ्ते से कोई भी ट्रैवल से जुड़ी एक्टिविटी नहीं हुई है। केरल राज्य की करीब 70 से 80 फीसदी बुकिंग कैंसल हो गई है। उन्होंने बताया कि कोल्लम और त्रिवेंद्रम में ट्रैवलर घूमने के लिए आ रहे हैं, क्योंकि वहां स्थिति बेहतर है। उन्होंने कहा कि अभी कोचिन की तरफ ट्रैवलर को नहीं आना चाहिए क्योंकि वहां हालात ज्यादा बुरे हैं।

 

केरल का कोच्चि एयरपोर्ट भी है बंद

 

केरल के कोच्चि एयरपोर्ट मूसलाधार बारिश के कारण पानी भर जाने से आज शनिवार 18 अगस्त तक के लिए सभी फ्लाइट को रद्द कर दिया गया है। यानी कोच्चि एयरपोर्ट पर शनिवार तक कोई फ्लाइट न आएगी और न जाएगी। इंडिगो, एयर इंडिया और स्पाइस जेट ने कोच्चि हवाई अड्डा से अपना परिचालन बंद करने की घोषणा पहले ही कर दी थी। यही नहीं तिरुवनंतपुरम और कोझिकोड में विमानों से उतरने वाले यात्रियों को राज्य सरकार की बसों से उनके गंतव्यों तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं।

 

 

टूर ऑपरेटर नहीं दे रहे केरल जाने की सलाह

 

टूर ऑपरेटर केरल में सिर्फ कोल्लम और त्रिवेंद्रम ही घूमने की सलाह पर्यटकों को दे रहे हैं। वह केरल में बाकि जगह जाने से मना कर रहे हैं। पर्यटक और ट्रैवल एजेंट दोनों ही केरल के लिए हाल-फिलहाल के लिए कोई बुकिंग नहीं कर रहे हैं। केरल में सितंबर के आखिर से टूरिस्टों के आने का पीक टाइम होता हैं। यहां सितंबर से लेकर मार्च तक का समय टूरिज्म इंडस्ट्री का पीक टाइम होता है। केरल की टूरिज्म इंडस्ट्री जल्द से जल्द हालत सुधरने की उम्मीद कर रही है ताकि उनके बिजनेस का पीक सीजन खराब न हो।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट