Home » Industry » Service Sectormumbai to goa cruise service start

इंतजार खत्म, मुंबई-गोवा क्रूज सर्विस शुरू

किराया 6 हजार रुपए से शुरू

1 of

नई दिल्ली. देश को पहले लग्जरी क्रूज शिप पर सफर के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा। कभी मौसम तो कभी अन्य वजह से मुंबई-गोवा क्रूज सर्विस के सफर में देरी होती है। लेकिन अब इसे 24 अक्टूबर से आम लोगों के लिए खोल दिया गया है। ऐसे में इस शानदार सफर का लुत्फ उठाया जा सकता है। क्रूज से इस दूरी को तय करने 16 घंटे लगेंगे। जो कि काफी रोमांचक सफर होगा।ये 131 मीटर पैसेंजर शिप क्रूज होगा। इसमें 400 लोगों के लिए ठहरने का इंतजाम होगा। इसमें एक खुला डक होगा, जहां से 360 डिग्री का व्यू दिखेगा।

 

किराया और बुकिंग 

 क्रूज में डॉरमेटरी बुक कराने के लिए यात्रियों को 6 हजार रुपए चुकाने होंगे। 10 हजार रुपए का सबसे ज्यादा किराया कपल रूम के लिए है। शिप के अलग डक का अलग किराया होगा। मुंबई-गोवा क्रूज सर्विस की बुकिंग शुरू है। इसके लिए http://angriyacruises.com वेबसाइट से टिकट से बुक किया जा सकता है। 


भारत का पहला घरेलू क्रूज
सात डक वाले क्रूज के सफर की शुरुआत मुंबई के पर्पल गेट के इंदिरा डॉक से शाम 4 बजे होगी और इसका अंत अगले दिन सुबह 9 बजे साउथ गोवा के मोरमुगाओ में होगा। क्रूज से सनसेट और सनराइज का अद्भुत नजारा देखने को मिलेगा। ये भारत का पहला घरेलू लक्जरी क्रूज होगा, जो अपनी पहली यात्रा से कुछ ही हफ्ते दूर है। 

 

आगे पढ़ें-

मनोरंजन के साधन
क्रूज पर यात्रियों के खाने का विशेष इंतजाम किया गया है। खाने की सुविधा के लिए इसमें दो रेस्टोरेंट, 6 बार होंगे। रेस्टोरेंट में चाइनीज, कॉन्टीनेनटल और Konkani fare के माहिर शेफ होंगे। जो यात्रियों को लजीज खाना उपलब्ध कराएंगे। क्रूज के टिकट में ब्रेफास्ट, डिनर और शाम का नाश्ते का चार्ज शामिल होगा। मनोरंज के साधन के तौर पर क्रूज में पूल और एक विशेष तरह का स्पा होगा। ये क्रूज के लोअर मोस्ट डेक में होगा। इसके अलावा क्रूज पर बच्चों के लिए इंडोर खेल की सुविधा होगी।

 

आगे पढ़ें-

 

क्रूज के नाम के पीछे की कहानी
इस क्रूज को Angriya नाम दिया गया है। इसके नाम के पीछे भी एक दिलचस्प कहानी है। दरअसल इस क्रूज का नाम kanhoji Angre के नाम पर रखा गया है, जो मराठा नेवी के पहले एडमिरल थे। उन्होंने कोंकण तटीय इलाके को यूरोपियों की दखल से बचाया था। विदेशी लड़ाके इन्हें पाइरेट बुलाते थे। लेकिन घर में इन्हें समुद्र के शिवाजी या फिर हिंद महासागार के शिवा के नाम से मशहूर थे। इन्हीं के नाम पर मुंबई में नौसेना का एक प्रतिष्ठित घर है। इसे आईएनएस Angre कहा जाता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट