विज्ञापन
Home » Industry » Service SectorHike in Research Fellowship

मोदी सरकार का छात्रों को तोहफा, रिसर्च फेलोशिप में हुई बड़ी बढ़ोत्तरी, जानिए किसे मिलेगा फायदा

रिसर्च फेलो को मकान किराया भत्‍ता भी मिलेगा।

1 of

नई दिल्ली. मोदी सरकार ने चुनावी साल में छात्रों को बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने पीएचडी स्टूडेंट और अन्य रिचर्स स्टूडेंट की फेलोशिप प्रतिमाह 7 हजार रुपए तक की बढ़ोत्तरी का ऐलान किया है। केंद्र की बढ़ी हुई फेलोशिप 1 जनवरी 2019 से प्रभावी मानी जाएगी। मोदी कार्यकाल में यह रिसर्च फेलोशिप की अब तक की सबसे बड़ी बढ़ोत्तरी है। इससे पहले साल 2014 में फेलोशिप में बढोत्तरी की गई थी। 

 

कैसा होगा फैलोशिप स्लैब 

जूनियर रिसर्च फेलोशिप में 25 हजार रुपए की जगह 31 हजार रुपए प्रतिमाह मिलेंगे। सीनियर रिसर्च फेलोशिप  में 28 हजार रुपए की जगह 35 हजार रुपए प्रति माह मिलेंगे। इसके अलावा रिसर्च एसोशिएट के मानदेय में 11 से 14 हजार तक की बढ़ोत्तरी गई है। ऐसे में रिसर्च एसोसिएट को अब पहले साल में 47 हजार रुपए प्रतिमाह मिलेंगे, जबकि दूसरे साल में 49 हजार और तीसरे साल में 54 हजार रुपए प्रति माह मिलेंगे। 

किन्हें मिलेगा फेलोशिप का फायदा 

फिजिक्स और केमेस्ट्री सहित साइंस, इंजीनियरिंग, मैथमेटिकल साइंस, एग्रीकल्चरल साइंस, लाइफ साइंस, फार्मेसी जैसे किसी भी क्षेत्र में दाखिला लेने वाले पीएचडी छात्रों और अन्य रिसर्चर को बढ़ी फेलोशिप का फायदा मिलेगा। फेलोशिप में बढ़ोतरी का देश के करीब 60 हजार से अधिक रिसर्च फेलो को सीधे तौर पर फायदा मिलेगा। 

 

सरकार ने जारी किया नोटिफिकेशन 

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बीते बुधवार को फेलोशिप में इजाफे का नोटिफिकेशन जारी किया। इसका फायदा केंद्र सरकार के सभी विभागों और उनसे जुड़ी एजेंसियों की ओर से दी जाने वाली फेलोशिप से जुड़े रिसर्चर को मिलेगा। इनमें CSIR, HRD जैसे सभी संस्थानों पर लागू होगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss