विज्ञापन
Home » Industry » Service SectorDelhi average income is highest in India

कमाई के मामले में दिल्ली वाले सबसे आगे, फिर भी बिगड़ रहा घर का बजट

निजी कार रखने में भी दिल्ली का आगे, आंकड़ा पहुंचा 1 करोड़ के पार

Delhi average income is highest in India

Delhi average income is highest in India: देश की राजधानी दिल्ली वाले कमाई के मामले में देशभर में आगे हैं। दिल्ली वालों की प्रति व्यक्ति आय राष्ट्रीय औसत की तुलना में लगभाग तीन गुना ज्यादा है। हालांकि राज्यों के हिसाब से प्रति व्यक्ति आय के मामले में दिल्ली दूसरे नंबर पर है।

नई दिल्ली.

देश की राजधानी दिल्ली वाले कमाई के मामले में देशभर में आगे हैं। दिल्ली वालों की प्रति व्यक्ति आय राष्ट्रीय औसत की तुलना में लगभाग तीन गुना ज्यादा है। हालांकि राज्यों के हिसाब से प्रति व्यक्ति आय के मामले में दिल्ली दूसरे नंबर पर है।

 

दिल्ली में प्रति व्यक्ति आय बढ़ी

 

बच्चों की महंगी पढ़ाई से बिगड़ा घर खर्च 

रिकार्ड कमाई के बावजूद दिल्ली वाले के घरों का बजट बिगड़ रहा है। दरअसल दिल्ली सालाना बच्चों की पढ़ाई का खर्च बढ़ रहा है। सरकार की ओर से जारी सर्वे के मुताबिक दिल्ली में शिक्षा पर प्रति साल प्रति छात्र खर्च 2018-19 में बढ़कर 66,038 रुपए हो गया, जबकि 2016-17 में यह 54,910 रुपए था। दिल्ली सरकार सरकारी की ओर से शिक्षा को अफोर्डेबल बनाने के लिए कोशिशों का जिक्र भी किया गया।

 

सरकार की शिक्षा को अफोर्डेबल बनाने की कोशिश जारी

रिपोर्ट के अनुसार 2018 में 301 प्राइमरी स्कूलों में नर्सरी क्लास की शुरुआत की गई। वहीं दूसरी ओर स्कूल में ऐडमिशन न ले पाने वाले बच्चों को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए 556 स्पेशल ट्रेनिंग सेंटर बनाए गए हैं। इसके अलावा शिक्षा के संबंध में 52 स्कूलों का नवीकरण, विभिन्न मौजूदा स्कूलों में 12,748 अतिरिक्त क्लासरूम बनाने के लिए मंजूरी मिल चुकी है।

 

उच्च शिक्षा के लिए बढ़ा बजट 

उच्च शिक्षा के लिए बजट आवंटन को वित्त वर्ष 2017-18 में 352 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 2018-19 में 402.60 करोड़ रुपये कर दिया गया है। कॉलेज भवनों के निर्माण के लिए पीडब्ल्यूडी के तहत 20 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान भी चालू वर्ष में रखा गया है। 


गाड़ियों की संख्या एक करोड़ के पार

दिल्ली की सड़कों पर दौड़ रही गाड़ियों की संख्या में लगातार तेजी आ रही है। मार्च 2018 तक कुल गाड़ियों की संख्या 1.09 करोड़ तक पहुंच गई। इनमें टूवीलर्स की संख्या 70 लाख से अधिक है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन