Advertisement
Home » Industry » Service SectorHow to become better professional salesman

इन गुणों को अपनाकर बन सकते हैं बेहतर प्रोफेशनल सेल्समैन, शिव खेड़ा की सलाह

एक आम और खास सेल्समैन के बीच होता है बहुत बारीक फर्क

1 of

नई दिल्ली.

अगर आप एक बेहतर प्रोफेेशनल सेल्समैन के तौर पर अपनी पहचान बनाना चाहते हैं, तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। जाने माने लेखक और मोटिवेशनल गुरु शिव खेड़ा के मुताबिक अगर आप अपने प्रोफेशन में इन बातों पर अमल करेंगे तो आप एक बेहतर प्रोफेशनल सेल्समैन बन सकेंगे।

 

इन बातों पर करें अमल:

 

1. पुराने ग्राहकों को बनाए रखने के साथ नए ग्राहकों को भी जोड़ते रहें। इससे आपका नेटवर्क बड़ा होगा।

 

2. पुराने ग्राहकों से नया बिजनेस पैदा करना आना चाहिए। जैसे अगर आपके पुराने ग्राहक को किसी अन्य सर्विस की जरूरत तो आप उस मौके को भुनाते हुए वह नई सर्विस प्रदान करने का काम भी शुरू कर सकते हैं।

 

3. अपने ग्राहकों के साथ भरोसेमंद रिश्ता बनाना जरूरी है। अगर आप उनके साथ ईमानदार नहीं रहेंगे तो इससे आपकी साख खराब होगी। पुराने ग्राहक तो आपसे अलग हो ही जाएंगे, नए भी आपसे जुड़ने में हिचकिचाएंगे।

 

4. यह बहुत जरूरी है कि आप अपने ग्राहकों के लिए उत्पादों और सेवाओं का स्थायी स्रोत बनें। अगर आप कभी भी उत्पाद समय पर उपलब्ध कराने और सेवा देने में चूक गए तो यह आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है।

 

 

आगे पढ़ें- अन्य बातें जिन पर गौर करना है जरूरी

 

 

इन बातों पर भी करें गौर 

 

5. एक अच्छा सेल्समैन वह होता है जो उत्पाद बेचने के बाद सही समय पर उनकी सर्विसिंग भी कराता है। अगर आप यह सोचेंगे कि सामान बेच देने के बाद आपकी जिम्मेदारी पूरी हुई तो आप कभी भी अपने ग्राहकों को जोड़कर नहीं रख पाएंगे।

 

6. यह भी बहुत जरूरी है कि आप अपने ग्राहकों का सही फीडबैक अपनी कंपनी को दें। इससे कंपनी के लिए अपनी कार्यशैली में बदलाव लाना आसान होगा और ग्राहकों को भी खुशी मिलेगी कि उनके फीडबैक को गंभीरता से लिया गया। इससे आपकी छवि कंपनी और ग्राहकों दोनों के बीच अच्छी होगी।

 

आगे पढ़ेंएक आम और खास सेल्समैन में फर्क

 

 

आम और खास सेल्समैन के बीच फर्क

 

-एक आम सेल्समैन हमेशा कंपनी से प्रेरित होता है। वह कंपनी के लिए काम करना चाहता हैजबकि खास सेल्समैन अच्छाई और ग्राहक सेवा से प्रेरित होता है। वह ग्राहकों के लिए काम करना चाहता है।

 

-एक आम सेल्समैन हमेशा ग्राहकों को ऐसे प्रोडक्ट व सेवाएं बेचने की कोशिश करता है जिसमें सिर्फ उसका फायदा हो रहा होजबकि एक खास सेल्समैन ग्राहकों की रुचि और जरूरत को आगे रखते हुए ऐसे उत्पाद व सेवाएं बेचता है जिसमें दोनों का फायदा हाे रहा हो।

 

-आम सेल्समैन हमेशा सफलता का पूरा श्रेय खुद ही ले लेता है। दूसरी तरफ खास सेल्समैन किसी काम में मिलने वाली सफलता का श्रेय उन सब लोगों को देता है जो उस काम से जुड़े थे।

 

आगे पढ़ेंआम और खास सेल्समैन के बीच अन्य फर्क के बारे में

 

 

आम और खास सेल्समैन में फर्क 

 

-एक आम सेल्समैन कानून का सहारे खड़ा रहता है। वह सबसे पहले खुद को सुरक्षित करके चलता हैफिर चाहे किसी का कोई भी नुकसान हो जाए। खास सेल्समैन कानून से बढ़कर सिद्धांतों से काम लेता है।

 

-आम सेल्समैन इसलिए काम करता है ताकि उसकी प्रतिष्ठा कायम होजबकि खास सेल्समैन इसलिए काम करता है ताकि वह हर बार बेहतर पर्फोमेंस दे पाए।

 

-आम सेल्समैन सिर्फ अपनी सेल बढ़ाना चाहता है। उसे इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि ग्राहक की जरूरत पूरी हुई या नहीं। जबकि खास सेल्समैन सेल बढ़ाने के साथ ग्राहकों को भी अपने साथ जोड़ना चाहता है।

 

आगे पढ़ेंये गुण होने हैं जरूरी

 

 

जरूरी हैं ये गुण होना

 

-एक अच्छे सेल्समैन में मजबूत सेल्फ-एस्टीम होना चाहिए।

-उसे बातचीत करने का तरीका आना चाहिए। यानी उसकी सुनने और समझाने की क्षमता होनी जरूरी है।

-एक अच्छे सेल्समैन में अपने काम के प्रति भरोसा और उत्साह होना चाहिए।

-अपनी कंपनी और उत्पाद की पूरी जानकारी होना भी जरूरी है। जब तक आप अपने प्रोडक्ट को अच्छी तरह नहीं जानते होंगेआप किसी को उसे खरीदने के लिए नहीं मना सकेंगे।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement