Trending News Alerts

ट्रेंडिंग न्यूज़ अलर्ट

    Home »Industry »Retail» Note Ban Affecting Winter Ware Business A& Sale Is Dropped To 70%

    नोट बैन: विंटर कारोबार पर पड़ा कैश क्राइसिस का असर, 70 फीसदी गिरी सेल

    नई दिल्ली। 500 और 1,000 रुपए के नोट बैन ने विंटर वेयर बनाने वाली इंडस्ट्री पर सीधे चोट पहुंचाई है। इंडस्ट्री के अनुसार इस फैसले असंगठित क्षेत्र के कारोबार में 70 फीसदी की गिरावट आई है। कारोबारियों के अनुसार रिटेल कस्टमर के साथ-साथ छोटे शहरों से ऑर्डर लेने वाले कारोबारियों की डिमांड बढ़ी है।
     
    हॉजरी इंडस्ट्री पर पड़ा असर
     
    देश में निटवेयर इंडस्ट्री का बड़ा हब लुधियाना की हॉजरी इंडस्ट्री नोट बैन से सबसे ज्यादा परेशान है। यहां 4 लाख लोग इस कारोबार से जुड़े हुए हैं। लुधियाना के कारोबारी वनोद कुमार ने moneybhaskar.com ने बताया कि नोट बैन का सीधा असर छोटे ट्रेडर और दुकानदारों पर असर पड़ा है क्योंकि 90 फीसदी कारोबार कैश में होता है। कुछ इंडस्ट्री के बंद होने से वर्कर अपने घर जा रहे हैं क्योंकि यहां फैक्ट्री बंद पड़ी हुई है।
     
    छोटी इंडस्ट्री पर है ज्यादा असर
     
    लुधियाना में रेडीमेड गारमेंट, टेक्सटाइल और विंटर हॉजरी प्रोडक्ट की इंडस्ट्री सबसे ज्यादा है। लुधियाना के अन्य कारोबार प्रवीन सरदाना ने moneybhaskar.com को बताया कि नोट बैन के बाद कस्टमर और ट्रेडर्स स्टॉक लेने नहीं आ रहे हैं क्योंकि उनके पास स्टॉक खरीदने के लिए कैश ही नहीं है। ये समय हॉजरी और विंटर वेयर इंडस्ट्री का पीक सीजन माना जाता है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के इस फैसले से कारोबार ठंडा हो गया है।
     
    अगली स्लाइड में जानें – कस्बों में भी गिरी सेल
     

    और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

    Recommendation

      Don't Miss

      NEXT STORY