बिज़नेस न्यूज़ » Industry » Retailखादी पर मुकदमेबाजी, फैब इंडि‍या से खादी इंडस्‍ट्रीज ने मांगे 525 करोड़

खादी पर मुकदमेबाजी, फैब इंडि‍या से खादी इंडस्‍ट्रीज ने मांगे 525 करोड़

खादी वि‍लेज एंड इंडस्‍ट्रीज कमीशन (KVIC) ने फैब इंडि‍या को लीगल नोटि‍स भेजकर 525 करोड़ रुपए की मांग की है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। खादी वि‍लेज एंड इंडस्‍ट्रीज कमीशन (KVIC) ने फैब इंडि‍या को लीगल नोटि‍स भेजकर 525 करोड़ रुपए की मांग की है। केवीआईसी का आरोप है कि फैब इंडिया ने गैर कानूनी रूप से 'खादी' के नाम और 'चरखा' के ट्रेड मार्क का इस्‍तेमाल कि‍या है।  इसके अलावा केवीआईसी ने चेतावनी दी है कि अगर उन्‍होंने इस ट्रेड मार्क का इस्‍तेमाल करना बंद नहीं कि‍या तो फैब इंडि‍या ओवरसीज प्राइवेट लि‍मि‍टेड के खि‍लाफ भी कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी।  


तुरंत हटाए नाम 
केवीआईसी  ने कंपनी से कहा है कि वह तुरंत अपने सभी प्रोडक्‍ट से चरखा या खादी जैसा टैग या नि‍शान हटा लें और कि‍सी भी सूरत में खादी या खादी से मि‍लते जुलते नि‍शान का इस्‍तेमाल न करें। वीआईसी ने फैब  इंडि‍या के औसत सालाना प्रॉफिट के करीब 25 फीसदी को हर्जाने के तौर पर मांगा है, जो कि 525 करोड़ रुपए है। 


नहीं माना फैब इंडि‍या 
यह मामला सन 2015 से चला आ रहा है जब पहली बार खादी ने फैब इंडि‍या को चेतावनी नोटि‍स भेजा था कि वह खादी का नाम इस्‍तेमाल करना बंद कर दे। उसके बाद से केवीआईसी  और फैब इंडि‍या के बीच कई दौर की वार्ता हो चुकी है मगर कोई हल नहीं निकला। अब केवीआईसी  ने फैब इंडि‍या से हर्जाने की मांग की है। हालांकि‍ फैब इंडि‍या के प्रवक्‍ता ने केवीआईसी के दावों को नि‍राधार बताया। उन्‍होंने कहा कि अगर इस कानूनी नोटि‍स पर कुछ कार्रवाई होती है तो फैब इंडि‍या अपना बचाव करेगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट