Home » Industry » Manufacturingपतंजलि पर हार्पिक जैसा उत्‍पाद बाजार में लाने का आरोप - Reckitt Benckiser moved the Court against Patanjali

पतंजलि पर लगा ‘हार्पिक’ जैसा उत्‍पाद बनाने का आरोप, 11 जनवरी को होगी सुनवाई

बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड पर हार्पिक जैसा टॉइलेट क्‍लीनर बाजार में लाने का आरोप लगाया है।

1 of

 

नई दिल्‍ली. बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड पर हार्पिक जैसा टॉइलेट क्‍लीनर बाजार में लाने का आरोप लगाया है। रेकिट बेन्किसर इंडिया ने दिल्‍ली हाइकोर्ट में पतंजलि के खिलाफ केस दायर कर आराेप लगाया है कि उसका टॉइलेट क्‍लीनर ‘ग्रीन फ्लैश’ उसके हार्पिक जैसा है। इस मामले पर अगली सुनवाई अब 11 जनवरी 2018 को होगी।

 

पैकिंग और पैटर्न में बिल्‍कुल हार्पिक जैसा है ग्रीन फ्लैश

रेकिट बेन्किसर इंडिया ने दिल्‍ली हाईकोर्ट में सिंगल जज जस्टिस मनमाेहन की अदालत में यह केस दायर किया है। कंपनी ने केस में कहा है कि पतंजलि ने अपने टॉइलेट क्‍लीनर ग्रीन फ्लैश बिल्‍कुल वैसा ही बनाया है जैसा उसका हार्पिक है। ग्रीन फ्लैश की पैकिंग और पैटर्न बिल्‍कुल उसके उत्‍पाद जैसा ही है। रेकिट बेन्किसर इंडिया ने कहा है कि टॉइलेट क्‍लीनर बाजार में उसकी 80 फीसदी हिस्‍सेदारी है। लेकिन बाबा रामदेव की पतंजलि के उससे मिलते जुलते उत्‍पाद से उनकी कंपनी के उत्‍पाद हार्पिक को नुकसान हो सकता है।

 

इंस्‍ट्रक्‍शन की बिल्‍कुल हार्पिक जैसे

रेकिट बेन्किसर इंडिया ने कहा है कि न सिर्फ पैकिंग और पेटर्न में यह उनके उत्‍पाद जैसा है बल्कि इसकी पैकिंग पर इंस्‍ट्रक्‍शन भी उनके उत्‍पाद जैसा ही है। कंपनी ने आरोप लगाया है कि पतंजली ग्राहकों को अपने उत्‍पाद को आर्गेनिक उत्‍पाद बता कर भ्रमित भी कर रही है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट