विज्ञापन
Home » Industry » ManufacturingSupreme court judgement on firecracker

अब राज्य तय करेंगे दिवाली पर पटाखे चलाने का समय, SC ने आदेश में किया संशोधन

दिल्ली एनसीआर में लागू होगा ग्रीन पटाखे जलाने का आदेश

Supreme court judgement on firecracker
सुप्रीम कोर्ट ने दिवाली के दौरान पटाखे जलाने के आदेश में बदलाव किया है। कोर्ट के राज्यों को छूट देते हुए कहा कि वो अपने राज्य में पटाखे जलाने को लेकर अलग समय तय कर सकते हैं। इससे पहले कोर्ट ने रात आठ से दस बजे के दौरान ही पटाखे जलाने का आदेश दिया था। हालांकि कोर्ट ने स्पष्ट किया कि एक दिन में दो घंटे से ज्यादा पटाखे नहीं जलाए जा सकेंगे।

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने दिवाली के दौरान पटाखे चलाने के अपने आदेश में संशोधन किया है। कोर्ट ने राज्यों को छूट देते हुए कहा कि वे अपने राज्य में पटाखे चलाने को लेकर अलग समय तय कर सकते हैं। इससे पहले कोर्ट ने रात आठ से दस बजे के दौरान ही पटाखे जलाने का आदेश दिया था। हालांकि कोर्ट ने स्पष्ट किया कि एक दिन में दो घंटे से ज्यादा पटाखे नहीं जलाए जा सकेंगे। 

 

ग्रीन पटाखे जलाने का आदेश दिल्ली एनसीआर के लिए 

जस्टिस ए के सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की पीठ ने ग्रीन पटाखे जलाने के आदेश पर सस्पेंस को खत्म करते हुए कहा कि यह आदेश केवल पूरे देश के लिए नहीं, बल्कि सिर्फ दिल्ली एनसीआर पर लागू होगा।। इसी मुद्दे को लेकर तमिलनाडु सरकार और पटाखा निर्माताओं की ओर से कोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई थी, जिसमें धार्मिक मान्यताओं को लेकर नियमों में ढील देने की अपील की गई थी। वहीं पटाखा निर्माताओं ने दिवाली में ग्रीन पटाखे के आदेश में बदलाव की मांग की थी। 

 

सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देश

सुप्रीम कोर्ट की ओर से प्रदूषण के चलते दिवाली के दौरान एक दिन में दो घंटे कम प्रदूषण फैलाने वाले पटाखे जलाने का निर्देश दिया है। वहीं इसके उल्लंघन पर कोर्ट की अवमानना को केस दर्ज होगा। इसके लिए हर इलाके का SHO जवाबदेह होगा। इसके अलावा क्रिसमस और नए साल के जश्न को लेकर दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। इसके तहत 11.55 से 12.30 तक ही पटाखे जलाए जा सकते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन