Home » Industry » ManufacturingSail on make in india

रेलवे की रफ्तार को धार देगी सेल, होगी विदेशी मुद्रा की बचत

मेक इन इंडिया में सेल निभा रहा बड़ा रोल

Sail on make in india

नई दिल्ली. भारत के आम लोगों के आवागमन का मुख्य साधन रेलवे है। इसकी बुनियादी जरूरतों को पूरा करने में सेल का अहम रोल है साथ ही पीएम मोदी के मेक इन इंडिया कैंपेन के तहत हाईस्पीड ट्रेन के एलएचबी कोच के व्हील बनाने का काम कर रहा है। इसकी आपूर्ति जल्द शुरु हो जाएगी। सेल कोलकाता मेट्रो के लिए व्हील बनाने का काम कर रहा है। कोलकाता मेट्रो के लिए दुर्गापुर संयंत्र में व्हील का निर्माण होता है। इससे आयात में खर्च हो रही विदेशी मुद्रा की बचत होगी। बता दें कि सेल-दुर्गापुर इस्पात संयंत्र देश का एकमात्र फोर्ज़्ड़ व्हील का निर्माता है। 

 

व्हील निर्माण क्षमता को उत्पादन में बदलें

स्टील अथॉरिटी ऑफ इण्डिया लिमिटेड (सेल) के अध्यक्ष अनिल कुमार चौधरी ने सेल के दुर्गापुर स्थित दो इस्पात संयंत्रों दुर्गापुर इस्पात संयंत्र (डीएसपी) और अलॉय स्टील्स संयंत्र (एएसपी) का दौरा किया और कहा कि हमारे लिए सबसे बेहतर समय है कि हम अपनी व्हील निर्माण क्षमता को उत्पादन में बदलें और भारतीय रेलवे की मांग को उसकी ज़रूरत और गुणवत्ता दोनों लिहाज से पूरा करें। 

 

भारत के इस्पात बाजार में सुधार

सेल अध्यक्ष ने आगे कहा कि दुनिया के साथ-साथ भारत के भी इस्पात के बाज़ार में सुधार आया है। एक तरफ भारत सरकार सार्वजनिक निर्माण जैसे पुल, फ्लाई-ओवर, रेलवे ब्रिज समेत विभिन्न कारखानों के ढांचों पर ज़ोर दे रही है तो दूसरी तरफ देश में बहुमंजिला और गगनचुंबी इमारतों का निर्माण बढ़ रहा है। हमने अपने स्ट्रक्चरल उत्पादों को बाज़ार में “NEX” ब्रांड के नाम से पेश किया है। चौधरी ने कहा कि हम अपने आपको तब सफल मानेंगे जब शून्य दुर्घटना के साथ देश को गुणवत्तापूर्ण इस्पात उत्पाद की आपूर्ति करें। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट