विज्ञापन
Home » Industry » ManufacturingDiesel car price may hike till 2.5 lakh rupee in 2020

ढाई लाख रुपए तक महंगी हो सकती हैं डीजल कारें, ये है वजह

कई कार कंपनियों ने दिए कीमत बढ़ने के संकेत

Diesel car price may hike till 2.5 lakh rupee in 2020
Diesel car price may hike till 2.5 lakh rupee :  बीएस-6 उत्सर्जन नियम लागू होने के बाद डीजल कारों की कीमत में अतिरिक्त बढ़ोतरी हो जाएगी। 

नई दिल्ली। अप्रैल 2020 के बाद भारत में डीजल कारों का उत्पादन बंद हो सकता है। इसका कारण बीएस-6 उत्सर्जन के नियम हो सकते हैं। यह संकेत देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी ने दिए हैं। कंपनी का कहना है कि बीएस-6 उत्सर्जन नियम लागू होने के बाद डीजल कारों पर दांव लगाना फायदे का सौदा नहीं रहेगा। इसका कारण यह है कि नए मानकों से डीजल कार बनाने में इसकी कीमत में ढाई लाख रुपए की अतिरिक्त बढ़ोतरी हो जाएगी। 

 

हाइब्रिड कार बनाने में समझदारी

 

मारुति सुजुकी के चेयरमैन आरसी भार्गव का कहना है कि बीएस-6 नियमों के लागू होने के बाद डीजल की कारों का उत्पादन काफी महंगा हो जाएगा। इससे बेहतर है कि डीजल की कारों के बजाए उन्नत हाइब्रिड कारों के उत्पादन पर फोकस किया जाए। भार्गव का कहना है कि नए नियमों के लागू होने के बाद पेट्रोल-डीजल की कारों की कीमत का अंतर काफी बढ़ जाएगा। उन्होंन कहा कि कंपनी एक नई तकनीक पर काम कर रही है। इससे पेट्रोल कारों का माइलेज भी 30 फीसदी तक बढ़ाया जा सकेगा। इससे उन ग्राहकों को लुभाया जा सकेगा जो माइलेज के लिए डीजल की कार खरीदते हैं।

 

पेट्रोल-डीजल कारों पर अतिरिक्त टैक्स गलत : भार्गव

 

मारुति के चेयरमैन आरसी भार्गव ने सरकार की ओर से पेट्रोल और डीजल कारों पर अतिरिक्त टैक्स लगाने को भी गलत बताया। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक कारों को प्रोत्साहन देने के लिए पेट्रोल-डीजल कारों पर टैक्स लगाना गलता है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार से इलेक्ट्रिक कारों को बढ़ावा नहीं मिल सकता है। आपको बता दें कि हाल ही में कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सरकार पेट्रोल-डीजल वाहनों पर 25 हजार रुपए का अतिरिक्त टैक्स लगा सकती है। इस पैसे को इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वालों को सब्सिडी के रूप में दिया जाएगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss