विज्ञापन
Home » Industry » IT-Telecomonline process to Update address in Adhar Card 2 options on UIDAI

Adhar Card / वैलिड प्रूफ के बिना भी आधार में अपडेट हो जाएगा एड्रेस, समझें ऑनलाइन प्रॉसेस

बार-बार घर बदलने से जरूरी हो जाता है एड्रेस अपडेट कराना

1 of


नई दिल्ली. भारत में आधार कार्ड अब आम आदमी की पहचान बन चुका है। सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए 12 नंबर वाले आधार ( Adhar Card) को पैन (PAN) से जोड़ना भी अनिवार्य कर दिया गया है। आधार से जुड़ी डिटेल को अपडेट कराना आम बात है। सबसे बड़ी समस्या एड्रेस अपडेट कराने में आती है, क्योंकि लोगों को अकसर ही अपना घर बदलना पड़ जाता है। हालांकि आधार से आपका रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर जुड़ा हो तो ऐसा आसान हो जाता है। अगर आप अपने आधार कार्ड में कोई बदलाव करना चाहते हैं तो उसके लिए आपके पास ऑनलाइन अपडेट करने के विकल्प भी हैं।

घर बैठे चेंज कराएं एड्रेस

इसके लिए आपको सबसे पहले uidai.gov.in की साइट पर जाना होगा। वहां जाकर Update your adress online पर क्लिक करें और update Aadhar को प्रेस करें। इसके बाद आधार सेल्फ सर्विस अपडेट पोर्टल नाम का एक नया टैब खुल जाएगा। पोर्टल पर एड्रेस चेंज करवाने के दो विकल्प होंगे।

यह भी पढ़ें-FD से 5 गुना तेज बढ़ सकता है आपका पैसा, ICICI बैंक में है मौका

ऑप्शन 1 - वैलिड एड्रेस प्रूफ के जरिए

सबसे पहले आधार नंबर, कैप्चा इमेज और OTP के जरिए लॉगइन करें। इसके बाद Update Address via Address Proof टैब पर क्लिक करें। अपना नया एड्रेस प्रूफ अपडेट करें और प्रिव्यू करें। प्रिव्यू में आपका नया एड्रेस नजर आएगा। इसके नीचे दिए चेकबॉक्स को सेलेक्ट करो और सबमिट टैब पर क्लिक करें।
नए एड्रेस प्रूफ के तौर पर आप पासपोर्ट, बैंक स्टेटमेंट, राशन कार्ड, वोटर आईडी अपडेट कर सकते हैं। अपने डॉक्यूमेंट की स्कैन कॉपी अपडेट करें।
एड्रेस अपडेट करने के बाद पेज पर एक URN यानी Update request Number जेनरेट होगा। इस नंबर को आगे के रेफरेंस के लिए नोट कर लें।

यह भी पढ़ें-500 रु से खोल सकते हैं SIP, FD से तीन गुना ज्यादा मिला है रिटर्न

 

ऑप्शन 2 - एड्रेस वैलिडेशन लेटर के जरिए

अगर आपके पास वैलिड एड्रेस प्रूफ नहीं है तो UIDAI की तरफ से मिले एड्रेस वैलिडेशन लेटर के जरिए ऑनलाइन एड्रेस प्रूफ अपडेट कर सकते हैं। आप जिस एड्रेस के लिए UIDAI से वैलिडेशन लेटर लेना चाहते हैं, वह एड्रेस आपके परिवार के किसी सदस्य, रिश्तेदार, दोस्त या मकान मालिक का होना चाहिए। साथ ही इनकी सहमति भी जरूरी है।

 

ऐसे करें अपडेट

सबसे पहले आधार नंबर, कैप्चा और OTP के जरिए लॉगइन करें। उसके बाद सीक्रेट कोड डालें। यह कोड UIDAI से मिले लेटर में लिखा होगा। इसके बाद प्रिव्यू में एड्रेस देखें और सबमिट कर दें।
इसके बाद URN नंबर जेनरेट होगा जिसे आगे के रेफरेंस के लिए आप संभाल कर रख सकते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन