विज्ञापन
Home » Industry » IT-TelecomChinese surgeons conduct remote surgery using 5G technology

तकनीक / चीन में 5जी तकनीक के इस्तेमाल से डॉक्टरों ने 200 किमी दूर बैठकर किया मरीज का सफल ऑपरेशन

5G में 4जी नेटवर्क की तुलना में 10 से 100 गुना ज्यादा डाउनलोड स्पीड मिलती है।

Chinese surgeons conduct remote surgery using 5G technology
  • देश में 5जी आने में लगेगा और वक्त।

 

नई दिल्ली.

दुनिया में पहली बार डॉक्टरों ने 5जी तकनीक का इस्तेमाल करते हुए 200 किमी दूर बैठकर एक सर्जरी को सफलतापूर्वक अंजाम दिया। चीन के हुबेई प्रांत में डॉक्टरों ने पिछले हफ्ते गॉल ब्लैडर की यह सर्जरी की, जो तकरीबन एक घंटे तक चली। 5जी नेक्स्ट जेनेरेशन की सेल्युलर तकनीक है, जिसमें मौजूदा 4जी नेटवर्क की तुलना में 10 से 100 गुना ज्यादा डाउनलोड स्पीड मिलती है।

 

ज्यादा मरीजों को बचाया जा सकता है

एजेंसी की खबरों के मुताबिक सर्जिकल टीम ने कहा कि, 5जी तकनीक की वजह से नेटवर्क में कोई बाधा नहीं आई और सर्जरी के बाद मरीज की हालत भी स्थिर रही। यह सर्जरी China Mobile टेलीकॉम फर्म की 5जी तकनीक से हुई। कंपनी के सीनियर अधिकारी Gui Kunpeng ने कहा कि, 5जी तकनीक में फोटो और वीडियो की क्वालिटी अच्छी आती है और वीडियो बीच में रुकती भी नहीं है। इस नेटवर्क के साथ ज्यादा से ज्यादा डॉक्टर दूर बैठकर मुश्किल सर्जरी कर सकते हैं।

 

दक्षिण कोरिया में शुरू हुई 5जी सेवा

5जी मोबाइल नेटवर्क शुरू करने के मामले में दक्षिण कोरिया ने बाजी मार ली है। इस साल अप्रैल में सियोल में 5जी सेवा लॉन्च की गई। इसी के साथ दक्षिण कोरिया यह उपलब्धि हासिल करने वाला पहला देश बन गया। 4जी की तुलना में 5जी नेटवर्क 20 गुना तेज है।

 

देश में 5जी आने में लगेगा और वक्त

भारत में डेटा वॉर की वजह से कंपनियों का मुनाफा कम हो रहा है। भारत में स्पेक्ट्रम प्राइस भी ज्यादा है। हालांकि, सरकार 2020 तक देश में 5जी सर्विस शुरू करने की तैयारी कर रही है, लेकिन ऐसा होना मुश्किल है। भारत में टेलीकॉम इंडस्ट्री पर अभी 7.80 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का कर्ज है, इसलिए कंपनियों की हालत ऐसी नहीं है कि वे 5जी कनेक्विटी के मकसद से बुनियादी ढांचा खड़ा करने के लिए निवेश कर सकें। इसके अलावा कंपनियां 5जी स्पेक्ट्रम की महंगी कीमतें भी नहीं चुका सकतीं। इस वजह से कंपनियों ने हाल ही में टेलीकॉम डिपार्टमेंट से 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी 2020 से पहले नहीं करने का अनुरोध भी किया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss