बिज़नेस न्यूज़ » Industry » IT-Telecomहांगकांग में लि‍स्‍ट होगी Xiaomi, 2014 के बाद चीन की टेक कंपनी का सबसे बड़ा IPO

हांगकांग में लि‍स्‍ट होगी Xiaomi, 2014 के बाद चीन की टेक कंपनी का सबसे बड़ा IPO

स्‍मार्टफोन और कनेक्‍टेड डि‍वाइज बनाने वाली कंपनी शाओमी ने गुरुवार को हांगकांग में आईपीओ फाइल कि‍या है।

xiaomi files in hong kong for biggest ipo after 2014, हांगकांग में लि‍स्‍ट होगी शाओमी

नई दि‍ल्‍ली। स्‍मार्टफोन और कनेक्‍टेड डि‍वाइज बनाने वाली कंपनी शाओमी ने गुरुवार को हांगकांग में आईपीओ फाइल कि‍या है। माना जा रहा है कि‍ यह करीब चार साल में कि‍सी चीन की टेक कंपनी की ओर से लि‍स्‍ट होने वाला सबसे बड़ा आईपीओ होगा। शाओमी ने हांगकांग स्‍टॉक एक्‍सचेंज में हुए बदलाव का फायदा उठाते हुए आईपीओ फाइल कि‍या है। हांगकांग स्‍टॉक एक्‍सचेंज में हुए बदलाव के बाद कंपनि‍यां वि‍भि‍न्‍न क्‍लास शेयर के साथ शहर में खुद को लि‍स्‍ट करा सकती हैं। हालांकि‍, शाओमी ने यह नहीं बताया कि‍ वह आईपीओ ने इतना फंड जुटाना चाहती है लेकि‍न कहा जा रहा है कि‍ इससे कंपनी कम से कम 10 अरब डॉलर जुटाएगी। 

 

पहली बार जारी की डि‍टेल फाइनेंशि‍यल रि‍पोर्ट

 

आईपीओ का ऐलान करने से पहले शाओमी ने इन्‍वेस्‍टर्स के सामने पहली बार डि‍टेल फाइनेंशि‍यल रि‍पोर्ट को पेश कि‍या है। रि‍पोर्ट के मुताबि‍क, 2017 में कंपनी का नेट लॉस 43.9 अरब युआन रहा, जबकि‍ एक साल पहले कंपनी को मुनाफा हुआ था। हालांकि‍, रेवेन्‍यू 67.5 फीसदी बढ़कर 114.5 अरब युआन रहा। 2017 में कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफि‍ट 12.22 अरब युआन रहा जबकि‍ एक साल पहले यह आंकड़ा 3.79 अरब युआन का था। माना जा रहा है कि‍ लिस्‍टिंग के बाद कंपनी की वैल्‍यू 100 अरब डॉलर तक पहुंच जाएगी।

 

CDR भी जारी कर सकती है शाओमी

 

मामले से जुड़े लोगों ने कहा कि‍ कंपनी की ओर से आईपीओ पेश करने के बाद चीन डि‍पॉजिटरी रि‍सीट को जारी कर सकती है। शाओमी ने सीडीआर प्रबंधन के लि‍ए Citic सि‍क्‍योरि‍टीज को चुना है। चीन के स्‍टेट काउंसि‍ल ने सीडीआर को पेश करने की योजना को मंजूरी दे दी है लेकि‍न इसका समय और डि‍टेल की जानकारी नहीं दी गई है। 

 

इससे पहले अलिबाबा लाई थी सबसे बड़ा आईपीओ

 

अलि‍बाबा के बाद शाओमी का आईपीओ सबसे बड़ा माना जा रहा है। साल 2014 में अलि‍बाबा ने 25 अरब डॉलर के साथ डेब्‍यू कि‍या था। हालांकि‍, कंपनी को 2016 में कई चुनौति‍यों का सामना करना पड़ा लेकि‍न भारत में अपने बि‍जनेस को बढ़ाने और अपने सेल्‍स मॉडल को सुधारने के बाद कंपनी ने वापसी की है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट