Home » Industry » IT-TelecomThis company is selling 9 lakh phones every day

हर रोज 9 लाख फोन बेच रही है ये कंपनी, Apple भी है पीछे

मोबाइल फोन अब फोन नहीं रहे, बल्कि ‘स्मार्टफोन’ बन चुके हैं।

1 of
नई दि‍ल्‍ली. मोबाइल फोन अब फोन नहीं रहे, बल्कि ‘स्मार्टफोन’ बन चुके हैं। स्मार्टफोन काफी ‘स्मार्ट’ होते हैं, जो लोगों की दैनिक जीवन की कई जरूरतों को पूरा करते हैं। इस पर मनोरंजन के अलावा कई ऐसे एप्स उपलब्ध हैं, जो सोशल नेटवर्कि‍ंग, न्‍यूूूज, के अलावा हमारी सेहत की खबर रखने से लेकर कई सुवि‍धा देते हैं। अब तो बेसिक फोन के मॉडल में भी इंटरनेट और कैमरा जैसी सुविधाएं मिलने लगी है। इसी के चलते स्‍मार्टफोन का मार्केट दि‍न ब दि‍न बढ़ता जा रहा है और कंपनि‍यों में नई खूबि‍यों के साथ फोन पेश करने की होड़ लगी है। ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं उन कंपनि‍यों के बारे में जि‍नके फोन दुनि‍या में सबसे ज्‍यादा बि‍कते हैं। 

 
 
सैमसंग : इस दक्षिण कोरियाई कंपनी का स्मार्टफोन के बाजार में पुरी दुनिया में जलवा है। इसके अलावा यह दूसरी स्मार्टफोन कंपनियों को भी स्मार्टफोन के चिप और स्क्रीन की आपूर्ति करती है। सैमसंग की वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में 21.7 फीसदी हिस्सेदारी है। हालांकि‍ भारत में पि‍छली दो ति‍माही में शाओमी सैमसंग को पीेछे छोड़ नंबर एक कंपनी बन गई है, लेकि‍न सैमसंग अब भी नंबर दो पर कायम है। सबसे कमाल की बात यह है कि‍ 30 हजार रुपए से ऊपर की रेंज के प्रीमि‍यम स्‍मार्टफोन के मार्केट में दूर दूर तक कोई सैमसंग को टक्‍कर देता नहीं दि‍खता। क्‍योंकि‍ प्रीमि‍यम स्‍मार्टफोन के मार्केट में सैमसंग का मार्केट शेयर 50% है। 
आगे पढ़ें : बहुत पीछे है एप्‍पल 
एप्पल : सैमसंग के बाद पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा एप्पल के स्मार्टफोन बिकते हैं। ताजा रि‍पोर्ट के मुताबि‍क एप्‍पल का मार्केट शेयर 14.5 फीसदी है। कंपनी साल-दर-साल के आधार पर 0.8 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है। स्मार्टफोन ही नहीं, बल्कि एप्पल द्वारा बनाए गए सभी उत्पाद चाहे वह लैपटॉप हो, मैकबुक हो, आईपैड हो, सभी बेहतरीन होते हैं और उच्च स्तर की प्रौद्योगिकी से लैस होते हैं। एप्पल का नया आईफोन एक्स पिछले साल नवंबर और दिसंबर में दुनिया के विभिन्न बाजारों में लांच किया गया था। इसी के दम से कंपनी ने चीन केे बाजार में 32 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की है। 
आगे पढ़ें : चाइनीज कंपनि‍यां भी कम नहीं 
हुआवे : चीन की कंपनी हुआवे की वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में 10.9 फीसदी हिस्सेदारी है। पिछले साल कंपनी ने कुल 3.85 करोड़ स्मार्टफोन की बिक्री की थी। कंपनी के फ्लैगशिप स्मार्टफोन पी10 के साथ ही 
मि‍ड सेगमेंट के स्मार्टफोन्स की खूब बिक्री हुुुुई है। कंपनी का को ब्रांड ऑनर मि‍ड सेगमेंट मार्केट में तेजी से पकड़ बना रहा है। दुनि‍या की टॉप 10 कंपनि‍यों की लि‍स्‍ट में हुआवे तीसरे नंबर पर है। वहीं, कंपनी भारत में भी टॉप 5 कंपनि‍यों की लि‍स्‍ट में जगह बना चुकी है। कड़ी टक्‍कर के बाद लेनोवो भारत के टॉप 5 स्‍मार्टफोन ब्रांड की लि‍स्‍ट से बाहर हो गई है। 
आगे पढ़ें : तेजी से बढ़ रही है शाओमी 
शाओमी : 2017 में शाओमी का नोट 4 भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाला फोन था और कंपनी सैमसंग को पीछे छोड़ कर नंबर एक पर आ गई है। वहीं, ग्‍लोबल लेवल पर कंपनी चौथे नंबर पर है और इसकी बाजार हिस्सेदारी 7.5 फीसदी है। भारतीय बाजार पर शा ओमी प्रमुखता से ध्यान दे रही है और देश भर में अपने ऑफलाइन नेटवर्क का विस्तार करने में जुटी है। कंपनी ने पिछले 6 महीनों में भारत में अपने सर्विस सेंटर की संख्या को दोगुनी कर ली है। 
आगे पढ़ें : गि‍र गई इस कंपनी की रैंकि‍ंग 

ओप्पो : ओप्पो स्मार्टफोन की बिक्री के मामले में दुनिया में पांचवें नंबर पर है। हालांकि‍ पि‍छले साल तक कंपनी चौथे नंबर पर थी। लेकि‍न शाओमी ने 100 फीसदी से भी ज्‍यादा की जबरदस्‍त ग्रोथ के साथ ओप्‍पो को पछाड़कर चौथे नंबर पर कब्‍जा जमा लि‍या है। फि‍लहाल कंपनी की ग्‍लोबल बाजार में हि‍स्‍सेदारी 6.1 फीसदी की है। भारत में कंपनी ने तेजी से अपने नेटवर्क का विस्तार किया है और आक्रामक विज्ञापन अभियान चलाया है। यही कारण है कि हर जगह कंपनी के विज्ञापन प्रमुखता से दिखते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट