Advertisement
Home » इंडस्ट्री » आईटी/टेलिकॉमRobot boat sails into history by finishing Atlantic crossing

आइरिश तट पहुंची बिना चालक की सेलबोट, ढाई महीने में पार किया अटलांटिक

इसके साथ ही यह मानव रहित संचालन वाली पहली सेलबोट बन गई है, जो अटलांटिक से पूर्व में बहती हुई आइरिश तट तक पहुंची है।

Robot boat sails into history by finishing Atlantic crossing
नई दिल्ली. एक छोटी नाव उत्तरी अटलांटिक में पूरी गर्मी चलती नजर आई। यह नाव तब तक दिखाई दी जब तक यह अटलांटिक पार कर आइरिश तट पर नहीं पहुंच गई। इसके साथ ही यह मानव रहित संचालन वाली पहली सेलबोट बन गई है, जो अटलांटिक से पूर्व में बहती हुई आइरिश तट तक पहुंची है। इससे पहले यह मार्च में नार्वे के पास भी दिखाई दी थी। 
 
नार्वेजियन कंपनी ऑफशोर सेंसिंग एएस की ओर से बनाई गई यह सेलबोट एसबी मेट 26 अगस्त को चैलेंज पूरा कर की फिनिश लाइन तक पहुंची। यह सेलबोट करीब ढाई महीने पहले न्यूफाउंडलैंड से चली थी। 
 
यह एक मील का पत्थर है जो दिखाता है कि मानव रहित नौकाओं की तकनीक को विकसित कर समुद्री अनुसंधान के अलावा दूर जलीय क्षेत्रों में सीमा सुरक्षा के काम में लागत कम हो सकती है। यह पहल समुद्री जहाजों, कार्गो और कंटेनर को रोबोटिक तकनीक पर विकसित करने की है। जो कि दशक के अंत में सफल होती दिख रही है। बिना ड्राइवर वाली गाड़ियों के बाद यह प्रयास भी अब किया जा रहा है। 
 

Advertisement

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement