Home » Industry » IT-TelecomPayment through eye blink no one can theft money from your wallet

पलक झपकाकर ही कर सकेंगे पेमेंट, कोई और नहीं कर पाएगा आपके वॉलेट से चोरी

पेटीएम कर रही है नई तकनीक पर काम

Payment through eye blink no one can theft money from your wallet

नई दिल्ली। दुनिया में तकनीक जिस रफ्तार से आगे बढ़ रही है। उतनी ही तेज रफ्तार से साइबर फ्रॉड अपने पैर पसार रहा है, जो कि डिजिटल पेमेंट एप्लीकेशन कंपनियों के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। ऐसे में सुरक्षित मनी ट्रांसफर को लेकर कंपनियां समय-समय पर खुद को अपडेट करती रहती हैं। इसी दिशा में Paytm काम कर रही है।


Paytm के नए टूल के जरिए यूजर आंख झपका कर मनी ट्रांसफर कर सकेंगे। पेटीएम की ओर से फिलहाल फेस रिकग्निशन (चेहरे को पहचानने वाली) तकनीक से मनी ट्रांसफर की तकनीक पर काम किया जा रहा है। लेकिन आने वाले दिनों में कंपनी Eye Blink (पलक झपकाकर) तकनीक से मनी ट्रांसफर की संभावनाओं पर करेगी। 


पेटीएम प्लेटफार्म से अभी पासवर्ड के जरिए मनी ट्रांसफर होता था। इससे फ्रॉड की संभावना ज्यादा रहती है। इसी समस्या को दूर करने के लिए कंपनी फेस रिकग्निशन टूल की टेस्टिंग कर रही है। इससे कंज्यूमर के स्मार्टफोन में पेटीएम पेमेंट ऐप्लिकेशन को अनलॉक किया जा सकेगा। कंपनी ने अपने कर्मचारियों के बीच इसकी टेस्टिंग शुरु कर दी है। 

 

आरबीआई गाइडलाइन-

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की सिक्योरिटी गाइडलाइन के मुताबिक डिजिटल पेमेंट के लिए टू स्टेप वेरिफिकेशन जरूरी है। लेकिन 2 हजार से कम के पेमेंट के लिए सिंगल स्टेप वेरिफिकेशन भी किया जा सकता है। पेटीएम के मुताबिक उसके प्लेटफार्म पर 95 लाख ऑफलाइन यूजर हैं।  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट