Home » Industry » IT-TelecomNo plans for ban in Facebook, Whatsapp and other Social Media apps

फेसबुक, वाॅट्सऐप और सोशल मीडि‍या पर बैन का नहीं है कोई प्‍लान : आईटी मि‍नि‍स्‍ट्री

आईटी मि‍नि‍स्‍ट्री के सेक्रेटरी अजय पी. साहनी ने कहा कि‍ इस बारे में जो भी नि‍र्णय लि‍या होगा वह आईटी एक्‍ट के तहत होगा।

No plans for ban in Facebook, Whatsapp and other Social Media apps
नई दि‍ल्‍ली. सरकार फेसबुक और व्‍हाट्स ऐप जैसी सोशल साइट पर बैन नहीं लगाएगी।  यह बयान आईटी मि‍नि‍स्‍ट्री के सेक्रेटरी अजय पी. साहनी की ओर से दि‍या गया हैैै। उन्‍होंंने बताया कि‍ इस बारे में जो भी नि‍र्णय लि‍या जाएगा वह आईटी एक्‍ट के तहत ही लि‍या जाएगा। 

 
क्‍या है मामला 
 
दूरसंचार विभाग ने विशेष परिस्थितियों में फेसबुक, वॉट्सएेप, इंस्टाग्राम और टेलीग्राम जैसी मोबाइल ऐप पर रोक लगाने के लिए अपनाये जाने वाले तकनीकी उपायों के बारे में टेलि‍कॉम कंपनि‍यों और इंटरनेट प्रोवाइडर्स से राय मांगी थी। विभाग की ओर से कहा गया था कि‍ क्‍या राष्ट्रीय सुरक्षा या शांति व्यवस्था को लेकर खतरे की स्थिति में इन एप्स को ब्लॉक कि‍या जा सकता है। इसके अलावा गलत खबरों और चाइल्‍इ पोर्नोग्राफी के खि‍लाफ भी इस तरह के कदम उठाए जा सकते हैं। 
 
दूरसंचार विभाग ने 18 जुलाई 2018 को सभी दूरसंचार ऑपरेटरों, भारतीय इंटरनेट सेवा प्रदाता संघ सीओएआई तथा अन्य को पत्र लिखकर आईटी कानून की धारा 69ए के तहत इन एप्लिकेशंस पर रोक लगाने के संदर्भ में उनकी राय मांगी थी।  
 
दुरुपयोग की संभावना बरकरार 
 
हाल के समय में भारत में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या की अनेक घटनाएं सामने आई हैं। इसमें यह भी सामने आया कि‍ इनका एक बड़ा कारण सोशल मीडिया पर अफवाह रही है। लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप वॉट्सएेप अपने प्लेटफाॅर्म के दुरुपयोग को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रही है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी ने अपना नाम न छापने की शर्त पर बताया कि व्हॉट्सएप ने संदेशों का पता लगाने और उसके मूल स्रोत की जानकारी देने के बारे में कोई प्रतिबद्धता नहीं जताई है, जबकि कंपनी से सरकार की यह प्रमुख मांग है। इसके बाद सरकार की ओर से इन ऐप को बैन करने के बारे में राय मांगी गई थी। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट