Advertisement
Home » Industry » IT-Telecomलगातार दूसरे साल गि‍रेगी स्‍मार्टफोन मार्केट की ग्रोथ, सैमसंग के लि‍ए खतरे की घंटी

लगातार दूसरे साल गि‍रेगी स्‍मार्टफोन मार्केट की ग्रोथ, सैमसंग के लि‍ए खतरे की घंटी

एक दशक की तेज ग्रोथ के बाद स्‍मार्टफोन बाजार अब अचानक गि‍रने लगा है।

लगातार दूसरे साल गि‍रेगी स्‍मार्टफोन मार्केट की ग्रोथ, सैमसंग के लि‍ए खतरे की घंटी
सेन फ्रांसि‍स्को, एक दशक की तेज ग्रोथ के बाद स्‍मार्टफोन बाजार अब अचानक गि‍रने लगा है। एक सर्वे में खुलासा हुआ है कि‍ 2007 में आईफोन के मार्केट में आने के बाद पहली बार 2017 में स्‍मार्टफोन की बि‍क्री घटी है। वहीं, इस साल के शुरुआती आंकड़ों भी यही कहते हैं कि‍ स्‍मार्टफोन की सेल में गि‍रावट आई है।  
 
विश्लेषकों का कहना है कि कई कारणों के चलते स्मार्टफोन बाजार प्रभावित हुआ है। इसमें नए फीचर्स की कमी बड़ा कारण है। वहीं, दूसरी ओर लोग अपने फोन को लंबे समय तक रखना चाहते हैं। क्‍योंकि‍ वो बार-बार नया फोन नहीं खरीद सकते। यह भी स्‍मार्टफोन मार्केट की ग्रोथ रुकने का एक कारण है। 
 
स्‍मार्टफोन की डि‍मांड नहीं, सि‍र्फ ग्रोथ रुकी 
 
अनालि‍स्‍ट बॉब ओ डोनि‍यल ने कहा कि‍ बाजार अपने पीक पर पहुंच गया है। लेकि‍न ऐसा नहीं है कि‍ स्‍मार्टफोन की डि‍मांड खत्‍म हो गई है। बल्‍कि‍ सि‍र्फ स्‍मार्टफोन की ग्रोथ रुकी है। इसका सीधा सा मतलब है कि‍ 2016 में स्‍मार्टफोन मार्केट अपने पीक पर था। ऐसे में अब हम उससे ज्‍यादा माल बाजार में नहीं बेच सकते। ये बि‍ल्‍कुल वैसा है जैसा कि‍ कुछ साल पहले टैबलेट और पर्सनल कम्‍प्‍यूटर के साथ हुआ था। बॉब ओ डोनि‍यल ने एएफपी को बताया कि‍ यह अब भी एक बड़ा बाजार है। लेकि‍न अब बाजार में सामान बेचने के लि‍ए कंपनि‍यों को कुछ ग्राहकों के लि‍ए कुछ नया करना होगा।
 
सैमसंग के लि‍ए बजी खतरे की घंटी 
 
सर्वे के अनुसार सैमसंग अब भी मार्केट में लीडर बना हुआ है। लेकि‍न सैमसंग का बहुत बड़ा ग्राहक वर्ग एप्‍पल की ओर आकर्षि‍त हुआ है। जो कि‍ सैमसंग के लि‍ए परेशानी का सबब है। वहीं, चाइनीज कंपनी हुआवे दुनि‍या में नंबर 3 पर बनी हुई है। वहीं, चीन की हुआवे की चाइनीज राइवल कंपनी शाओमी ने तेजी से ग्रोथ करते हुए नंबर 4 पर जगह बना ली है। 
 
2017 में 0.1 % घटी बि‍क्री  
 
इंटरनेशनल डाटा कॉरपोरेशन की ओर से दि‍ए गए डाटा के अनुसार 2017 में स्मार्टफोन की बिक्री 0.1 प्रतिशत घटकर 1.472 अरब रह गई। इसका बड़ा कारण है चौथी तिमाही में कम शिपमेंट का होना। आईडीसी के अनुसार 5जी नेटवर्क आने के बाद एक बार फि‍र बाजार गि‍रने की उम्‍मीद है। जबकि‍ भारत स्‍मार्टफोन के लि‍हाज से अब भी सबसे बड़े बाजारों में से एक है। 
 
दूसरी ति‍माही में 3 फीसदी तक गि‍रेगा बाजार  
 
आईडीसी के अनुसार, चीन में इस साल भी मार्केट फ्लैट ही रहने की उम्‍मीद है। वहीं, भारत में अब भी ग्रोथ बनी रहेगी। क्‍योंकि‍ भारत में अब भी सस्‍ते स्‍मार्टफोन का बाजार बढ़ रहा है। आईडीसी विश्लेषक रयान रीथ ने कहा कि‍ चीन अब भी कई कंपनि‍यों के लि‍ए बड़ा बाजार है। क्‍योंकि‍ वह अकेला ही दुनिया के स्मार्टफोन का लगभग 30 प्रतिशत उपभोग करता है। काउंटरपॉइंट रिसर्च ने कहा कि एक साल पहले की तुलना में स्‍मार्टफोन की मार्केट इस साल दूसरी तिमाही में 3 फीसदी तक गि‍र सकती है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement
Don't Miss