Home » Industry » IT-Telecomgoogle maps get two wheeler mode in India; know the features

स्‍कूटर-बाइक चलाने वालों के लि‍ए आया Google Map, ऐसे करता है काम

दुनि‍या के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने भारत के लि‍ए मैप में नया 'टू-व्‍हीलर मोड' लॉन्‍च करने का ऐलान कि‍या है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। दुनि‍या के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने भारत के लि‍ए मैप में नया 'टू-व्‍हीलर मोड' लॉन्‍च करने का ऐलान कि‍या है। यह मोड कार, ट्रेन, कैब और वॉकिंग ऑप्‍शन के साथ रखा गया है जि‍से आप अपने गूगल मैप पर देख सकते हैं। खास बात यह है कि‍ भारत पहला ऐसा देश है जहां गूगल मैप में 'टू-व्‍हीलर मोड' को लॉन्‍च कि‍या गया है। इंडि‍यन यूजर इसे मैप के 9.67.1 वर्जन में देख सकते हैं। 

 

गूगल मैप का नया फीचर टू-व्‍हीलर पर चलने वाले लोगों को सबसे तेज और सबसे प्रभावशाली रूट को दि‍खाएगा। माना जा रहा है कि‍ 'टू-व्‍हीलर मोड' में एस्‍टि‍मेटेड टाइम ऑफ अरावइल (ETA) कार की तुलना में कम दि‍खा सकता है। साथ ही, यह फीचर डेस्‍टि‍नेशन पर पार्किंग स्‍टेटस के साथ रास्‍ते में आने वाली बंद पड़ी सड़क को भी दिखाएगा। 

 

गूगल ने क्‍या कहा

 

गूगल मैप्‍स की डायरेक्‍टर मार्था वेल्‍श ने इसका ऐलान करते हुए कहा कि‍ हम भारत के लि‍ए मैप्‍स को अनुकूल नहीं बनाते। हम भारत को ध्‍यान में रखते हुए इस फीचर को बनाते हैं। उदाहरण के लि‍ए ऑफलाइन मैप्‍स, लैंडमार्क नेगि‍वेशन, जि‍से हमने पहले भारत में लॉन्‍च कि‍या वह अब दुनि‍या भर के दूसरे मैप यूजर्स के बीच भी पॉपुलर हो गया है। मैप्‍स का इस्‍तेमाल करने वाले यूजर्स के मामले में भारत टॉप 3 देशों में से एक है।  

 

ये हैं फीचर्स

 

-गूगल मैप्‍स में नया टू-व्‍हीलर फीचर्स में कस्‍टमाइज्‍ड रूटिंग और वॉयस गाइडेड नेवि‍गेशन के साथ व्‍यापक लैंडमार्क नेवि‍गेशन है।  
-इससे देश में बाइक चलाने वालों को अपने व्‍हीकल्‍स के हि‍साब से सबसे बेहतर रूट का पता चल जाएगा।
-मैप में टू-व्‍हीलर को रीयल टाइम ट्रैफि‍क के आधार पर पहुंचने का टाइम दि‍खाएगा।
-भारत में लोग अकसर लैंडमार्क को पहले पहुंचते हैं, इसलि‍ए गूगल में लैंडमार्क को भी दि‍खाया जाएगा।    

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट