Home » Industry » IT-Telecom5G smartphones will be launched next year, trial Starts

अगले साल ये कंपनि‍यां लाएंगी 5G स्‍मार्टफाेन, भारत में ट्रायल शुरू

पूरे विश्व सहित भारत में इन दिनों 4जी इंटरनेट कनेक्टिविटी और 4जी सर्विसेज़ का यूज़ चरम पर है।

1 of
 
नई दि‍ल्‍ली. पूरे विश्व सहित भारत में इन दिनों 4जी इंटरनेट कनेक्टिविटी और 4जी सर्विसेज़ का यूज़ चरम पर है। 4जी के विस्तार के साथ ही उम्मीद की जाने लगी थी कि आने वाले समय में और भी फास्ट सर्विस के रूप में 5जी कनेक्टिविटी देखने को मिलेगी। 5जी सर्विस कब तक आम जनता के हाथों में आएगी यह तो अभी नहीं कहा जा सकता, लेकिन चिपसेट बनाने वाली दिग्गज़ टेक कंपनी क्वालकॉम ने उन नामों को जरूर उजागर कर दिया है जो अपने स्मार्टफोन्स को 5जी सपोर्ट के साथ पेश करने वाले हैं। 

 
क्वालकॉम ने आधिकारिक तौर पर प्रैस रिलीज़ जारी कर बताया है कि‍ 2019 में 5जी सर्विस यूज़ में आ जाएगी और 5जी सपोर्ट से लैस स्मार्टफोन्स भी मार्केट में लॉन्च कर दिए जाएंगे। इसके लि‍ए क्वालकॉम ने बताया है कि कंपनी स्नैपड्रैगन एक्स50 मॉडम बना रही है जो 5जी पर काम करेगा। 
आगे पढ़ें : कौन सी कंपनि‍यां कर रही हैं तैयारी
ये कंपनि‍यां कर रही हैं 5जी स्‍मार्टफोन लाने की तैयारी 
 
इस मॉडम का यूज़ करने वाली कंपनियों के नाम का खुलासा करते हुए क्वालकॉम ने बताया है कि असूस, एचटीसी, एलजी, ओपो, सोनी मोबाइल्स, वीवो, शाओमी, ज़ेडटीई, शार्प और नोकिया ब्रांड के स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी एचएमडी ग्लोबल इस लिस्ट में शामिल है। यानि आने वाले समय में इस कंपनियों के स्मार्टफोन 5जी सपोर्ट के साथ बाजार में लॉन्च होंगे।
आगे पढ़ें : क्वालकॉम लाएगी 5G को सपोर्ट करने वाला मॉडम 
MWC में मॉडम स्नैपड्रैगन एक्स50 से उठ सकता है पर्दा 
 
हालांकि इस लिस्ट में एप्पल और सैमसंग जैसी बड़ी कंपनियों का शामिल न होना थोड़ा आश्चर्यजनक जरूर है। वहीं दूसरी ओर उम्मीद की जा रही है कि क्वालकॉम इसी महीने आयोजित होने वाली मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2018 में अपने नए मॉडम स्नैपड्रैगन एक्स50 से पर्दा उठा सकती है।
आगे पढ़ें : भारत में कि‍सने शुरू कि‍या ट्रायल  
जि‍यो से आगे नि‍कला ऐयरटेल 
 
5जी मोबाइल तकनीक की चर्चा काफी समय से चल रही है। वहीं हाल में आईटीयू ने भी इसके ​लिए स्टैंडर्ड भी सेट कर दिया है। आईटीयू द्वारा 5जी मानक तय करने के बाद विश्व स्तर पर इसकी कोशिशें तेज हो गई है। भारत को अक्सर तकनीक में पीछे माना जाता है लेकिन 5जी को देखकर शायद पीछे नहीं होगा। भारत की नंबर मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी एयरटेल ने कुछ दि‍न पहले ही 5जी सर्विस के ट्रायल की घोषणा कर दी है। कंपनी ने इसके लिए चीनी वेंडर हुवावे के साथ समझौता किया है। एयरटेल ने हुवावे के साथ मिलकर गुड़गांव मानेसर में भारत का पहला 5जी एक्सपीरियंस सेंटर स्थापित किया है। 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट