विज्ञापन
Home » Industry » IT-Telecomreliance jio vs bharti airtel vs vodafone idea new war in indian telecom market

अंबानी को मिलेगी बड़ी चुनौती, 57 हजार करोड़ जमा कर रहे बिड़ला और मित्तल

रिलायंस जियो के साथ ऐसे छिड़ सकती है नई जंग

1 of

नई दिल्ली. प्राइस वार के दम पर भारत के टेलिकॉम मार्केट को बुरी तरह हिलाने वाली मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) को जल्द बड़ी चुनौती मिलने जा रही है। दरअसल, देश की लीडिंग टेलिकॉम कंपनियां भारती एयरटेल (Bharti Airtel) और वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) बाजार से लगभग 55 हजार करोड़ रुपए जुटाने जा रही हैं। माना जा रहा है कि दोनों ही कंपनियां इस फंड के दम पर टेलिकॉम मार्केट में रिलायंस जियो के साथ चल रही अपनी जंग को और तेज कर सकती हैं। गौरतलब है कि भारती एयरटेल की कमान सुनील भारती मित्तल के हाथों में हैं, वहीं वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ब्रिटेन की वोडाफोन और आदित्य बिड़ला ग्रुप की आइडिया का संयुक्त उपक्रम है। 

 

यह भी पढ़ें-लाखों की जॉब छोड़ दो दोस्तों ने शुरू की कंपनी, अंबानी ने लगा दिए 700 करोड़ 

 

भारती एयरटेल को मिली सेबी की मंजूरी

मार्केट रेग्युलेटर सेबी (SEBI) ने मंगलवार को ही भारती एयरटेल (Bharti Airtel) को राइट इश्यू (rights issue) के माध्यम से 25,000 करोड़ रुपए तक जुटाने की मंजूरी दी है। इसके अलावा फॉरेन करंसी परपेच्युअल बॉन्ड इश्यू के माध्यम से 7,000 करोड़ रुपए जुटाने की भी योजना है। सुनील भारती मित्तल की अगुआई वाली कंपनी का बोर्ड फरवरी में ही इस राइट इश्यू को मंजूरी दे चुका है।
सूत्रों के मुताबिक सिक्युरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) ने एयरटेल के राइट इश्यू को हरी झंडी दे दी है। संपर्क करने पर भारती एयरटेल (Bharti Airtel) के स्पोक्सपर्सन ने कहा, ‘कंपनी अभी जरूरी मंजूरियां लेने की प्रक्रिया में है और उचित समय पर इससे संबंधित घोषणा की जाएगी।’

 

यह भी पढ़ें-अंबानी-मित्तल के बीच छिड़ेगी नई जंग, यहां लगा सकते हैं हजारों करोड़

 

 

 

भारती एयरटेल 220 रु प्रति शेयर पर लाएगी राइट इश्यू

इससे पहले बोर्ड ने 220 रुपए प्रति शेयर की दर से फुली पेड अप शेयर जारी करके 25,000 करोड़ रुपए जुटाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी। 
कंपनी ने कहा था कि इस कैपिटल इनफ्यूजन से भविष्य के योजनाओं के लिए नेटवर्क कैपेसिटी के विस्तार में मिलेगी और बेहतर कस्टमर एक्सपीरिएंस सुनिश्चित करने के लिए कंटेंट व टेक्नोलॉजी पार्टनरशिप्स करने में मदद मिलेगी।


 

 

प्रमोटर भी करेंगे बड़ा निवेश

पिछले महीने एयरटेल (Airtel) को अपनी सबसे बड़ी शेयरहोल्डर सिंगटेल (Singtel), अपने प्रमोटर्स और जीआईसी सिंगापुर से 32,000 करोड़ रुपए के कैपिटल रेजिंग प्रोग्राम में भाग लेने की प्रतिबद्धता हासिल हो गई थी।
सिंगापुर की टेलिकॉम कंपनी सिंगटेल (Singtel) ने कहा कि वह कंपनी के 25,000 करोड़ रुपए के प्रस्तावित राइट इश्यू में सब्सक्राइब करके 3,750 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। वहीं सिंगापुर सरकार और मॉनिट्री अथॉरिटी सिंगापुर की तरफ से जीआईसी प्राइवेट लिमिटेड ने प्रस्तावित प्रोग्राम में 5,000 करोड़ रुपए के निवेश की प्रतिबद्धता जाहिर की थी।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन