Home » Industry » IT-TelecomRBI slaps Rs 5 cr penalty on Airtel Payments Bank

RBI ने एयरटेल पेमेंट बैंक पर लगाया 5 Cr रु का जुर्माना, बिना मर्जी खोले थे अकाउंट

आरबीआई ने ऑपरेटिंग गाइडलाइंस और केवाईसी नॉर्म्स के उल्लंघन पर एयरटेल पेमेंट बैंक को तगड़ा झटका दिया है।

1 of

 

नई दिल्ली. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने ऑपरेटिंग गाइडलाइंस और केवाईसी नॉर्म्स के उल्लंघन पर एयरटेल पेमेंट बैंक को तगड़ा झटका दिया है। सेंट्रल बैंक ने शुक्रवार को बैंक पर 5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। गौरतलब है कि भारती एयरटेल के पेमेंट बैंक कस्टमर्स की बिना मर्जी के अकाउंट खोलने के आरोप लगे थे।

 

नियमों का नहीं किया पालन

आरबीआई द्वारा जारी रिलीज के मुताबिक, पेमेंट बैंक्स के लिए तय ऑपरेटिंग गाइडलाइंस और केवाईसी नॉर्म्स पर जारी दिशानिर्देशों के उल्लंघन पर एयरटेल पेमेंट बैंक पर यह कार्रवाई की गई है।

आरबीआई ने यह भी कहा कि बैंक के रेग्युलेटरी कंप्लायंसेज में खासी खामियां थीं और उसका कस्टमर्स के साथ ट्रांजैक्शंस या एग्रीमेंट की वैलिडिटी का कोई इरादा नहीं था।

 

बैंक पर लगे थे ये आरोप

दरअसल मीडिया में आई कुछ खबरों में एयरटेल पेमेंट बैंक पर कस्टमर्स की बिना मर्जी के अकाउंट खोलने के आरोप लगे थे। 20 से 22 नवंबर, 2017 के बीच आरबीआई द्वारा की गई सुपरवाइजरी विजिट में ये बातें सही साबित हुई थीं।

ऐसे ही एक मामले में यूआईडीएआई ने भी कड़ी आपत्ति दर्ज कराई, जिनमें एलपीजी सब्सिडी लेने के लिए भी ऐसे पेमेंट बैंक अकाउंट्स को लिंक करने की बात कही जा रही है।

इस मसले पर बैंक के जवाब पर विचार करने  और पर्सनल हेयरिंग के बाद आरबीआई ने पाया कि एयरटेल पेमेंट बैंक पर सभी आरोप साबित हुए और इसीलिए उस पर जुर्माना लगाया गया है।

 

दिसंबर में ई-केवाईसी हुई थी रद्द

नई दिल्ली. यूआईडीएआई ने भारती एयरटेल और एयरटेल पेमेंट बैंक पर कड़ा एक्शन लेते हुए उनकी ई-केवाईसी लाइसेंस अस्थायी तौर पर सस्पेंड कर दिया है। इसके साथ ही फिलहाल दोनों कंपनियां ई-केवाईसी प्रोसेस के इस्तेमाल से मोबाइल कस्टमर्स के आधार बेस्ड सिम वेरिफिकेशन और पेमेंट बैंक क्लाइंट्स का ई-केवाईसी नहीं कर सकेंगी।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट