Home » Industry » IT-TelecomEC want Facebook to block advt 48 hr before polling

फेसबुक पर सख्त हुआ चुनाव आयोग, कहा-इलेक्शन से 48 घंटे पहले ब्‍लॉक करे विज्ञापन

चुनाव आयोग ने फेसबुक से कहा है कि वह चुनाव के 48 घंटे पहले पॉलिटिकल विज्ञापनों को ब्‍लॉक करने पर विचार करे।

EC want Facebook to block advt 48 hr before polling
 
नई दिल्‍ली. दुनिया के कई देशों में चुनावों को प्रभावित करने में फेसबुक की भूमिका सामने आने के बाद चुनाव आयोग उस पर सख्त हो गया है। चुनाव आयोग ने फेसबुक से कहा है कि वह चुनाव के 48 घंटे पहले पॉलिटिकल विज्ञापनों को ब्‍लॉक करने पर विचार करे। हालांकि फेसबुक ने अभी तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, लेकिन वह इस प्रापोजल पर विचार कर रहा है। 
 
 
चुनाव आयोग के साथ हुई बैठक 
चुनाव आयोग ने एक कमेटी का गठन किया था, जिसे रिप्रिजेंटेशन ऑफ प्‍यूपिल एक्‍ट 1951 के सेक्‍शन 126 का अध्‍ययन करना था। इस कमेटी के साथ फेसबुक की 4 जून को एक मीटिंग हुई थी। इस मीटिंग के मिनिट्स के अनुसार फेसबुक अपने पेज पर चुनाव नियमों के उल्‍लंघन को लेकर एक विंडो या बटन उपलब्‍ध कराने का भरोसा दिलाया है। 

 
शिकायत की समीक्षा करने वालों की बढ़ाई जा सकती है संख्‍या 
फेसबुक ने इस मीटिंग के दौरान कहा कि वह शिकायतों को सुनने वालों की संख्‍या को 7500 से ज्‍यादा बढ़ा सकता है। फेसबुक ने मीटिंग में बताया कि अगर चुनाव के दौरान लगता है कि संख्‍या बढ़ाने की जरूरत है तो ऐसा किया जा सकता है। 
 
 
ये हैं चुनाव से संबंधित नियम 
धारा 126 निर्वाचन क्षेत्र में मतदान की तिथि के 48 घंटों पहले किसी भी तरह के प्रचार से रोकता है। इसमें टेलीविजन या इसी तरह के उपकरण और अन्‍य माध्‍यम श‍ामिल हैं। 

फेसबुक ने रखी अपनी बात 
इस मीटिंग के दौरान फेसबुक के अधिकारियों ने बताया कि उनके प्‍लेटफार्म पर आपत्तिजनक कंटेंट मिलते ही उसको रिव्‍यू करने का तरीका है, जो ग्‍लोबल कम्‍युनिटी स्‍टैंडर्ड के मानकों के अनुसार है। अगर कंटेंट कम्‍युनिटी मानकों के खिलाफ है तो उसे हटा दिया जाता है। इस मीटिंग के मिनट्स के मुताबिक फेसबुक का कहना है कि अगर आयोग की तरफ से कंटेंट को लेकर शिकायत मिलती है तो इस पर तुरंत एक्‍शन लिया जाएगा। 
 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट