बिज़नेस न्यूज़ » Industry » IT-Telecomएयरटेल पेमेंट बैंक के एमडी का इस्तीफा, कस्टमर्स की बिना मर्जी खोले थे अकाउंट

एयरटेल पेमेंट बैंक के एमडी का इस्तीफा, कस्टमर्स की बिना मर्जी खोले थे अकाउंट

एयरटेल पेमेंट बैंक के एमडी एवं सीईओ शशि अरोड़ा ने इस्तीफा दे दिया है।

1 of

नई दिल्ली. कस्टमर्स की बिना मर्जी अकाउंट खोलने से विवादों में आए भारती ग्रुप के एयरटेल पेमेंट बैंक के एमडी एवं सीईओ शशि अरोड़ा ने इस्तीफा दे दिया है। इंडस्ट्री सोर्सेज के हवाले से यह खबर सामने आ रही है। इसी मामले में यूआईडीएआई ने हाल में उसका ईकेवाईसी लाइसेंस निरस्त कर दिया था और कुछ ही दिन बाद सशर्त बहाल भी कर दिया था।

 

 

 

भारती एयरटेल पर लगे थे ये आरोप

 

भारती एयरटेल पर आधार-ईकेवाईसी बेस्ड सिम वेरिफिकेशन प्रोसेस को अपने सब्सक्राइबर्स की मर्जी के बिना उनके पेमेंट बैंक अकाउंट खोलने में इस्तेमाल करने के आरोपों के बाद उसका ईकेवाईसी लाइसेंस रद्द कर दिया गया था। यूआईडीएआई ने उन आरोपों पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई, जिनमें एलपीजी सब्सिडी लेने के लिए भी ऐसे पेमेंट बैंक अकाउंट्स को लिंक करने की बात कही जा रही है।

 

 

सशर्त ईकेवाईसी की मिली मंजूरी

यूआईडीएआई ने हाल में ही भारती एयरटेल को कुछ शर्तों के साथ अपने टेलिकॉम कस्टमर्स का ई-केवाईसी सत्यापन करने की अनुमति दे दी थी। हालांकि, प्राधिकरण ने एयरटेल पेमेंट बैंक के बारे में ई-केवाईसी निलंबन के आदेश को कायम रखा है।

 

 

55 लाख मूल खातों में ट्रांसफर किए 138 करोड़

कंपनी को यूआईडीएआई से कुछ शर्तों के साथ यह राहत मिली थी, जबकि कंपनी ने अपने कस्टमर्स के 55.63 लाख मूल खातों में 138 करोड़ रुपए का डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) फिर से स्थानांतरित कर दिया है। यूआईडीएआई ने इस बारे में अपना दूसरा इंटरिम आदेश जारी किया। यूआईडीएआई ने ग्राहकों की सुविधा के मद्देनजर यह कदम उठाया है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट द्वारा मोबाइल सिम सत्यापन की 31 मार्च की समयसीमा भी पास आ रही है।

 

 

आरबीआई और डॉट 10 जनवरी तक देंगे रिपोर्ट

प्राधिकरण यानी यूआईडीएआई इस मुद्दे पर आरबीआई और डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकॉम (डॉट) से इस बारे में 10 जनवरी को रिपोर्ट मिलने के बाद राय बनाएगा। यूआईडीएआई ने आरबीआई और डॉट दोनों से भारती एयरटेल की प्रणाली, प्रक्रियाओं, एप्लीकेशंस, दस्तावेजीकरण का ऑडिट करने को कहा है, जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि कंपनी अपनी लाइसेंस शर्तों का अनुपालन कर रही है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट