विज्ञापन
Home » Industry » IT-TelecomVodafone CEO Vittorio Colao says It is a difficult decision to step down

वोडाफोन ग्रुप के सीईओ कोलाओ ने छोड़ा पद, बोले - यह एक मुश्किल फैसला

वोडाफोन ग्रुप के सीईओ विटोरियो कोलाओ ने आज कहा है कि वह सितंबर तक पद छोड़ देंगे।

Vodafone CEO Vittorio Colao says It is a difficult decision to step down
वोडाफोन ग्रुप के सीईओ विटोरियो कोलाओ ने आज कहा है कि वह सितंबर तक पद छोड़ देंगे। उन्होंने कहा कि करीब एक दशक तक जिम्मेदारी संभालने के बाद यह एक मुश्किल फैसला है। कोलाओ को जुलाई , 2008 में ब्रिटेन के इस ग्रुप का सीईओ नियुक्त किया गया था। उनकी नियुक्ति भारत में वोडाफोन ब्रांड को पेश किए जाने के करीब एक साल बाद हुई थी। वह भारतीय कारोबार पर भी नजदीकी से नजर रखते रहे हैं।

नई दिल्‍ली. वोडाफोन ग्रुप के सीईओ विटोरियो कोलाओ सितंबर तक पद छोड़ देंगे। कोलाओ को जुलाई, 2008 में ब्रिटेन के इस ग्रुप का सीईओ नियुक्त किया गया था। वोडाफोन ने बयान में कहा कि एक अक्टूबर, 2018 से ग्रुप के सीएफओ निक रीड, कोलाओ का स्थान लेंगे। 

 

इस फैसले को लेकर कोलाओ ने कहा कि करीब एक दशक तक जिम्मेदारी संभालने के बाद यह एक मुश्किल फैसला है। कोलाओ के मुताबिक, ‘मैं सीईओ का पद छोड़ रहा हूं। किसी ऐसी कंपनी के सीईओ पद को छोड़ना उस स्थिति में काफी कठिन फैसला हो जाता है, जब आप उससे 10 साल से जुड़े हों।’ 

 

भारत में वोडाफोन आने के 1 साल बाद हुई थी नियुक्ति 

कोलाओ की कंपनी में नियुक्ति भारत में वोडाफोन ब्रांड को पेश किए जाने के करीब एक साल बाद हुई थी। वह भारतीय कारोबार पर भी नजदीकी से नजर रखते रहे हैं। कोलाओ ने 1996 में वोडाफोन इटली के सब्‍सिक्‍वेंटली Omnitel प्रोनटो इटैलिया को ज्‍वॉइन किया। उन्‍हें 1999 में चीफ एक्ज्‍क्‍यूटिव के तौर पर नियुक्‍त किया गया। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss