विज्ञापन
Home » Industry » IT-TelecomVodafone vs Jio

Vodafone का बड़ा आरोप, Jio को फायदा पहुंचाने की हुई कोशिश

कम दर पर डाटा इस्तेमाल पर जताई चिंता 

Vodafone vs Jio

नई दिल्ली. टेलीकॉम कंपनी Vodafone ने  भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI)  पर बड़ा आरोप लगाया है। वोडाफोन के सीईओ निक रीड ने कहा कि पिछले दो वर्षों में भारत में टेलीकॉम सेक्टर के लिए नियामक संबंधी जितने भी फैसले आए हैं, वे रिलायंस जियो के पक्ष में रहे है, जबकि अन्य ऑपरेटरों के खिलाफ रहे हैं। 

 

Jio के आने के बाद अन्य ऑपरेटर्स को पहुंचा नुकसान 

बता दें कि वोडाफोन पिछले कुछ वक्त से भारत में मुश्किल दौर से गुजर रही है। जिओ के मार्केट में आने के बाद से वोडाफोन समेत अन्य कंपनियों की हालात खराब हुआ है। यही वजह है कि वोडाफोन और आइडिया को एक दूसरे से हाथ मिलाया। निक रीड के मुताबिक अब वोडाफोन खुद को बेहतर स्थित में पा रही है। 

 

कम दर पर डाटा इस्तेमाल पर जताई चिंता

निक ने कहा कि मौजूदा दौर में भारत में टेलीकॉम सेवा की दरें सबसे कम और कारोबार के लिहाज से सही नहीं है। भारत में औसतन ग्राहक इनती कम दर से हर माह 12 जीबी डाटा का इस्तेमाल कर रहा है, जो दुनिया में कहीं नहीं है।   

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन