बिज़नेस न्यूज़ » Industry » IT-TelecomTRAI ने कम किया आईएसडी कॉल का टर्मिनेशन चार्ज, घटकर हुआ 30 पैसे

TRAI ने कम किया आईएसडी कॉल का टर्मिनेशन चार्ज, घटकर हुआ 30 पैसे

TRAI ने इंटरनेशनल इनकमिंग कॉल के टर्मिनेशन चार्ज की दरें 53 पैसे प्रति मिनट कर दिया है।

1 of

नई दिल्ली । टेलिकॉम रेग्युलेटर TRAI ने अवैध तरीकों पर रोक लगाने के लिए इंटरनेशनल इनकमिंग कॉल के टर्मिनेशन चार्ज की दरें 53 पैसे प्रति मिनट से घटाकर 30 पैसे प्रति मिनट कर दिया है। शुक्रवार को एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई। नई दरें 1 फरवरी से प्रभावी होंगी। 

 

TRAI ने बयान में कहा, 'अथॉरिटी ने किसी अंतरराष्ट्रीय सेवा प्रदाता द्वारा कॉल स्वीकार करने वाले नेटवर्क को किए जाने वाले भुगतान की दर 53 पैसे प्रति मिनट से कम कर 30 पैसे प्रति मिनट कर दिया है।' इस घोषणा के साथ ही ट्राई ने अवैध तरीकों की मौजूदगी का भी जिक्र किया है। 

 

VoIP से रेवेन्यु का भी नुकसान
विदेश से भारत किए जाने वाले कॉल पर चार्ज से बचने के लिए अवैध VoIP यानी 'वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल' बनाकर आईएसडी कॉल किए जाते हैं। TRAI ने कहा कि इन्हें समाप्त किए जाने की जरूरत है।  TRAI ने कहा कि इन अवैध तरीकों से देश की सुरक्षा को गंभीर चुनौती होने के साथ ही देश और घरेलू टेलिकॉम कंपनियों को रेवेन्यु का भी नुकसान होता है। 


2020 से किसी तरह का टर्मिनेशनल शुल्क नहीं
बता दें कि इससे पहले पिछले साल ट्राई ने डोमेस्टिक कॉल्स पर टर्मिनेशन चार्ज की दर को 1 अक्टूबर से प्रति मिनट 14 पैसे से घटाकर 6 पैसे करने का फैसला किया था।  इसी के साथ ट्राई ने ऐलान किया था कि 1 जनवरी, 2020 से किसी तरह का टर्मिनेशनल शुल्क नहीं लगेगा। ट्राई की घोषणा से रिलायंस जियो को छोड़ बाकी सभी टेलीकॉम कंपनियां सकते में आ गई थीं। उनका कहना था कि इससे पहले से वित्तीय रूप से परेशान टेलीकॉम इंडस्ट्री और दबाव में आ जाएगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट