विज्ञापन
Home » Industry » IT-TelecomBoard recommends BSNL to save the employees' problems

Loksabha चुनाव के बाद इस सरकारी कंपनी के 54 हजार कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी 

BSNL को बचाने के लिए बोर्ड ने की सिफारिश, कर्मचारियों की मुश्किलें बढ़ी

Board recommends BSNL to save the employees' problems

कभी देश की नवरत्न कंपनियों में शुमार रही इस सरकारी कंपनी की अब इतनी हालात खराब है कि वह अपने 54 हजार कर्मचारियों की छुट्‌टी करने जा रही है। लोकसभा चुनाव के बाद कभी भी यह फैसला लिया जा सकता है।

नई दिल्ली. कभी देश की नवरत्न कंपनियों में शुमार रही इस सरकारी कंपनी की अब इतनी हालात खराब है कि वह अपने 54 हजार कर्मचारियों की छुट्‌टी करने जा रही है। लोकसभा चुनाव के बाद कभी भी यह फैसला लिया जा सकता है। 

कंपनी के बोर्ड ने रखा है प्रस्ताव 

भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) में चल रहे आर्थिक संकट को दूर करने के लिए कंपनी के बोर्ड ने यह प्रस्ताव रखा है। सूत्रों के मुताबिक दूरसंचार विभाग (DOT) के पास एक रिपोर्ट भी भेजी गई है।  कंपनी की आर्थिक स्थिति सही करने के लिए कुछ अहम कदम भी उठाए जाएंगे। इसी के तहत बीएसएनएल बोर्ड ने पैसों की बचत के लिए कर्मचारियों की रिटायरमेंट उम्र 60 वर्ष से घटाकर 58 साल करेगी। साथ ही स्वेच्छिक सेवानिवृत्ति स्कीम (Vrs)  के लिए भी उम्र सीमा 50 वर्ष की जाएगी। गौरतलब है कि कंपनी में अभी 171000 कर्मचारी कार्यरत है। 

 

कांग्रेस ने लगाया मोदी के मित्र को मदद पहुंचाने का आरोप


बीएसएनएल के आर्थिक संकट पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया रिपोर्टस के हवाले से कहा है कि बीएसएनएल की दुर्दशा के लिए मोदी सरकार जिम्मेदार है। वह अपने एक पूंजीपंति मित्र को फायदा पहुंचाने के लिए बीएसएनएल को कमजोर कर रही है। 

 

यह भी पढ़ें...

उम्र 25 साल, सिर्फ ढाई साल में खड़ी की 70 कंपनियां, दो फोर्ब्स की सूची में

 

समय पर सैलरी नहीं दे पा रही है कंपनी

डेक्कन हेराल्ड  में प्रकाशित खबर के अनुसार बीएसएनल को संकट से उबारने के लिए सरकार द्वारा गठित बोर्ड के 10 में से 3 सुझाव को बीएसएनएल ने स्वीकार कर लिया है। इस बीच ऐसा पहली बार हुआ है कि बीएसएनएल अपने कर्मचारियों को समय पर वेतन भी नहीं दे पा रहा है। फरवरी से वेतन नहीं बंटा है। हालांकि, अब बीएसएएएल को जरूरी खर्चों के लिए कुछ रकम जल्द ही मिल सकती है।

 

 

कंपनी के सीएमडी ने ट्वीट कर बताया नहीं घटेगी उम्र सीमा 


कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की खबरों के बीच BSNL के सीएमडी अनुपम श्रीवास्तव ने ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने कहा है कि सेवानिवृत्ति की उम्र कम नहीं की जाएगी। जल्द ही बीएसएनएल को 4 जी स्पेक्ट्रम का आवंटन हो जाएगी। सीएमडी ने मीडिया में प्रकाशित रिपोर्टस का भी खंडन किया है। 

 

यह भी पढ़ें...

Tulip garden के लिए यूरोप नहीं भारत की इस जगह की सैर कीजिए

 

 

VRS देकर कर्मचारियों की छुट्टी करेगी कंपनी

बता दें कि खर्चों में कटौती के लिए कंपनी ने पहले ही वीआरएस को एक उपाय के तौर पर अपनाने के संकेत दिए थे. वीआरएस के संबंध में कंपनी ने कहा है कि वह इसके लिए 56-60 साल की उम्र वाले कर्मचारियों को टार्गेट करेगी, जिससे 67,000 कर्मी इसके दायरे में आ जाएंगे। कंपनी ने कहा कि अगर इनमें से 50 फीसदी कर्मचारियों (33,846) को वीआरएस दिया जाता है, तो इससे वेतन मद में 3,000 करोड़ रुपये की बचत होगी। विभिन्न मदों में अनुग्रह राशि 6,900 करोड़ रुपये से 6,300 करोड़ रुपये होगी। 

 

यह भी पढ़ें..

सिर्फ 75 रुपए रोजाना बचाएं, बेटी की शादी के लिए मिलेंगे 11 लाख रुपए

 

सॉफ्ट लोन से मिल सकते हैं 3500 करोड़ रुपए 

 

बीएसएएनएल के एक वरिष्ठ सूत्र के हवाले से, 'सरकारी कंपनी बीएसएनएल को 2,900 करोड़ रुपये सरकार के कई फंसे हुए प्रॉजेक्ट से मिलनेवाले हैं। अप्रैल या मई तक यह रकम मिल जाएगी और इसके साथ 500 करोड़ की रकम बीएसएनएल को विभिन्न दूसरे बिजनस से भी मिल सकती है। साथ ही सॉफ्ट लोन के तौर 3,500 करोड़ रुपये मिल सकते हैं। इन सभी पैसों से आनेवाले 3-4 महीनों के लिए बीएसएनएल की खस्ता हालत में कुछ सुधार जरूर हो सकता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss