विज्ञापन
Home » Industry » IT-TelecomTelecom Companies make most spam call in India

रिपोर्ट में खुलासा, मोबाइल उपभोक्ताओं को सबसे ज्यादा परेशान करतीं हैं दूरसंचार कंपनियां

स्पैम कॉल के मामले में दुनिया में दूसरे स्थान पर पहुंचा भारत

1 of

नई दिल्ली। दुनिया में सबसे अधिक स्पैम कॉल प्राप्त करने वाले देशों में भारत एक पायदान उतरकर अब दूसरे स्थान पर आ गया है। ट्रूकॉलर की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीयों को सबसे अधिक स्पैम कॉल दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियां करती  हैं, जबकि धोखाधड़ी यानी स्कैम करने वाले दूसरे और  टेलीमार्केटिंग करने वाले तीसरे स्थान पर हैं। 

 

स्पैम कॉल के मामले में एक स्थान खिसका भारत

 

ट्रूकॉलर ने मंगलवार को वार्षिक रिपोर्ट ‘ट्रूकॉलर इनसाइट स्पेशल रिपोर्ट’ जारी की। इस रिपोर्ट में स्पैम कॉल प्राप्त करने वाले दुनिया भर के शीर्ष 20 देशों की सूची है। भारत पिछले साल जारी इस रिपोर्ट में पहले स्थान पर था, लेकिन इस साल वह एक पायदान नीचे आ गया है। इस साल की सूची में ब्राजील पहले स्थान पर आ गया है, जहाँ स्पैम कॉल की संख्या 81 फीसदी बढ़ गई है।

 

आगे पढ़ें-- भारत में कितनी स्पैम कॉल होती हैं

भारत में स्पैम कॉल होती है हर 16वीं कॉल


भारतीय यूजर्स को प्राप्त कुल कॉल में 6.1 फीसदी यानी हर 16वां कॉल स्पैम कॉल था। हालांकि, प्रति माह प्रति यूजर प्राप्त औसत स्पैम कॉल डेढ़ फीसदी कम होकर 22.3 रह गई है। देश में कुल स्पैम कॉल में 91 फीसदी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियाँ करती हैं। ये कंपनियाँ अपने आफर और बैलेंस के रिमांइडर के रूप में स्पैम कॉल करती हैं। 

 

आगे पढ़ें-- इतनी करोड़ स्पैम कॉल को किया ब्लॉक 

 

20.2 अरब स्कैम कॉल को ब्लॉक किया


इसके बाद सात फीसदी स्पैम कॉल स्कैम कॉलर्स और दो फीसदी कॉल टेलीमॉर्केटिंग वाले करते हैं। इनमें से 20.2 अरब कॉल की पहचान करके ट्रूकॉलर ने उन्हें सफलतापूर्वक ब्लॉक किया है। दुनिया भर में ट्रूकॉलर ने ऐसे 17.7 अरब स्पैम कॉल को चिह्नित करके उसे ब्लॉक किया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन