Advertisement
Home » Industry » IT-TelecomJ&K Governor Satya Pal Malik said wealthy people of the country are like 'rotten potatoes'

ईशा अंबानी की शादी में 700 करोड़ खर्च करने वाले मुकेश अंबानी पर राज्यपाल का तंज, बताया सड़ा हुआ आलू

जम्मू कश्मीर में आयोजित कार्यक्रम में दिया बयान

J&K Governor Satya Pal Malik said wealthy people of the country are like 'rotten potatoes'

नई दिल्ली। हाल ही में अपनी बेटी ईशा अंबानी की शादी में 700 करोड़ रुपए खर्च करके पूरी दुनिया में वाहवाही बटोरने वाले देश के दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी पर बिना नाम लिए जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने तंज कसा है। जम्मू कश्मीर में सैनिक वेलफेयर सोसाइटी के कार्यक्रम में बोलते हुए सत्यपाल मलिक ने कहा कि देश के धनी लोगों में समाज के प्रति कोई संवेदनशीलता नहीं है और वह एक सड़े हुए आलू जैसे हैं। बेटी की शादी में 700 करोड़ रुपए खर्च करने का हवाला देते हुए मलिक ने कहा कि देश के सबसे बड़े धनी व्यक्ति से एक कार्यक्रम में चैरिटी को लेकर सवाल पूछा गया था। तब उस धनी व्यक्ति ने चैरिटी नहीं करने की बात कहते हुए देश के लिए धन कमाने की बात कही थी। मलिक ने कहा कि क्या वह धनी व्यक्ति सिर्फ इसलिए धन कमाते हैं ताकि अपनी बेटी की शादी में 700 करोड़ रुपए खर्च कर सकें। 

 

700 करोड़ रुपए से हो सकते थे ये काम

 

बगैर नाम लिए मुकेश अंबानी पर तंज कसते हुए मलिक ने कहा कि बेटी की शादी में खर्च किए 700 करोड़ रुपए से बहुत से काम किए जा सकते थे। मलिक ने कहा कि इन 700 करोड़ रुपयों से राज्य में 700 बड़े स्कूल बनाए जा सकते थे या शहीदों की 7000 विधवाएं अपने बच्चों का पालन पोषण कर सकती थीं। मलिक ने कहा कि लेकिन देश के उच्च (कारोबारी ) तबका ऐसा नहीं करता और उनमें संवेदनशीलता की कमी है। 

 

धर्मार्थ का कार्य नहीं करते देश के धनी व्यक्ति

 

कार्यक्रम में माइक्रोसाफ्ट के मालिक का जिक्र करते हुए मलिक ने कहा कि वे अपनी कमाई का एक बड़ा हिस्सा धर्मार्थ के कार्यों में खर्च करते हैं। इसके अलावा कई यूरोप और अन्य देशों के कारोबारी भी धर्मार्थ के कार्य करते हैं। लेकिन भारत के कारोबारी धर्मार्थ का कार्य नहीं करते। उन्होंने कहा कि वे ऐसे लोगों को सड़ा हुआ आलू मानते हैं। मलिक ने कहा कि समाज उच्च वर्ग के बजाए किसानों कर्मचारियों, उद्योगों में काम करने वाले सशस्त्र बलों से बनता है। हमें उनकी मदद के लिए आगे आना चाहिए।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement