Home » Industry » IT-TelecomConsolidations done, telecom looks to dial up growth in 2018

जियो की एंट्री से टेलिकॉम सेक्टर में हुए बड़े बदलाव, 2018 में तेज ग्रोथ की उम्मीद

रिलायंस जियो के आने के बाद टेलिकॉम सेक्टर्स में बड़े बदलाव हुए हैं।

1 of

नई दिल्ली। रिलायंस जियो के आने के बाद टेलिकॉम सेक्टर्स में बड़े बदलाव हुए हैं। जियो इफेक्ट से सेक्टर में डाटा वार छिड़ा, जिसका नतीजा सेक्टर में कंसोलिडेशन के रूप में दिखा है। रिपोर्ट के अनुसार साल 2017 कंसोलिडेशन का साल रहा है। वहीं, अब 2018 में सेक्टर में अच्छी ग्रोथ दिखने की उम्मीद हे। अगले 2 साल में सेक्टर में 3 लाख करोड़ रुपए निवेश का अनुमान है। 

 

 

रिपोर्ट के अनुसार साल 2017 में भारत ने मोबाइल डाटा यूज के मामले में अमेरिका और चीन के कुल डाटा कंजंप्शन को भी पीछे छोड़ दिया। 2017 में टेलिकॉम कंपनियों में टैरिफ वॉर दिखा तो कॉल रेट फ्री हो गया। रिपोर्ट के अनुसार आने वाले दिनों में डाटा की डिमांड और बढ़ेगी, जिससे 2018 में टेलिकॉम सेक्टर में ग्रोथ नई रफ्तार पकड़ेगी। न्यूज एजेंसी के अनुसार टेलिकॉम सेक्रेट्री अरुणा सुंदरराजन का कहना है कि साल 2017 कंसोलिउेशन का साल रहा है,
2018 सेक्टर के लिए ग्रोथ का साल रहेगा। 

 

2017 कंसोलिडेशन का साल 
भारत के टेलिकॉम सेक्टर के लिए 2017 कंसोलिउेशन का साल रहा है। साल के अंत तक मार्केट में सिर्फ गिने-चुने प्लेयर्स बचे हैं। एक ओर टाटा ने अपना टेलिकॉम बिजनेस भारती एयरटेल को बेच दिया वहीं पिछले साल मार्केट में एंट्री लेने वाली मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो ने छोटे भाई की कंपनी आरकॉम का वायरलेस नेटवर्क खरीदा। मार्केट में भारती एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया और रिलायंस जियो जैसे बड़े नाम ही रह गए हैं। वोडाफोन और आइडिया का भी मर्जर होना है। एयरटेल ने टेलिनॉर की भारतीय कंपनी टेलिनॉर को खरीदने के अलावा तिकोना भी खरीदा।

 

जियो की एंट्री से बड़े बदलाव
सितंबर 2016 में रिलायंस जियो की एंट्री से जहां कॉल दरें फ्री तक हो गईं, वहीं कंज्यूमर्स को बेहद सस्ती दररों पर डाटा मिलने लगा। जियो के सस्ते डाटा प्लान से दूसरे ऑपरेटर्स पर भी दबाव बढ़ा और कस्टमर बेस को बनाए रखने के लिए कंपनियों ने अपना खर्च बढ़ा दिया। इसका असर टेलिकॉम कंपनियों की मार्जिन पर दबाव के रूप में दिखा। वहीं, इसी दबाव के चलते कंसोलिउेशन का दौर शुरू हुआ और अब सिर्फ बड़े प्लेयर ही मार्केट में रह गए। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट