बिज़नेस न्यूज़ » Industry » IT-Telecomरिशद प्रेमजी बने नॉस्‍कॉम के चेयरमैन, केवश मुरुगेश होंगे वाइस चेयरमैन

रिशद प्रेमजी बने नॉस्‍कॉम के चेयरमैन, केवश मुरुगेश होंगे वाइस चेयरमैन

विप्रो के चीफ स्‍ट्रैटजी ऑफिसर और बोर्ड मेम्‍बर रिशद प्रेमजी को 2018-19 के लिए अपना चेयरमैन बनाया है।

1 of

नई दिल्‍ली. आईटी इंडस्‍ट्री बॉडी नॉस्‍कॉम ने मंगलवार को विप्रो के चीफ स्‍ट्रैटजी ऑफिसर और बोर्ड मेम्‍बर रिशद प्रेमजी को 2018-19 के लिए अपना चेयरमैन बनाया है। इसके अलावा नॉस्‍कॉम ने WNS ग्रुप के सीईओ केशव मुरुगेश को इसी अवधि के लिए वाइस चेयरमैन नियुक्‍त किया। नैस्कॉम पूरी दुनिया में आईटी कंपनियों के हितों के लिए काम करता है। बता दें, रिशद प्रेमजी विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी के बेटे हैं। 

 

नॉस्‍कॉम की ओर से जारी बयान के अनुसार, प्रेमजी नॉस्‍कॉम एग्‍जीक्‍यूटिव काउंसिल के मेम्‍बर रहे हैं और 2017-18 में वाइस चेयरमैन थे। रिशद प्रेमजी रमन रॉय की जगह लेंगे। रॉय क्‍वाट्रो ग्‍लोबल सर्विसेज के सीएमडी हैं। इस नियुक्‍त पर रिशद प्रेमजी का कहना है, नॉस्‍कॉम लीडरशिप टीम के भरोसा पाकर मुझे खुशी है। हम सभी डिजिटल ट्रांसफार्मेशन के अहम पड़ाव पर खड़े हैं।  

 

नॉस्‍कॉम प्रेसिडेंट देबजानी घोष का कहना है कि नई एनर्जी और यूनिक प्रतिभा के साथ रिशद इंडस्‍ट्री को आगे ले जाने में सफल होंगे। नई लीडरशिप का फोकस टैलेंट के ग्‍लोबल फ्री मूवमेंट, इमिग्रेशन को लेकर इंडस्‍ट्री में फैले भ्रम को दूर करना और इंडस्‍ट्री को नई डोमेन और सीमाओं में विस्‍तार कराने के लिए नए व इमर्जिंग मार्केट को शामिल करने पर होगा। नई टीम इंडस्‍ट्री में टैलेंट के स्किल और रि-स्किल पर भी काम करेगी। बता दें, नैस्कॉम की 2500 आईटी कंपनियां सदस्य है। इसमें भारतीय और विदेशी दोनों तरह की कंपनियां शामिल हैं। ये कंपनियां 40 लाख लोगों को रोजगार देती हैं। 

 
कौन है रिशद प्रेमजी? 
रिशद प्रेमजी अभी तक विप्रो के चीफ स्ट्रैटजी आफिसर के ओहदे पर काम कर रहे हैं। उन्‍होंने साल 2007 में बिजनेस मैनेजर के रूप में विप्रो को ज्वाइन किया। रिशद प्रेमजी ने हॉवर्ड बिजनेस स्कूल से MBA किया है। रिशद प्रेमजी विप्रो में मर्जर और एक्विजिशन का काम देखते हैं। उन्होंने स्टार्टअप में निवेश के लिए 10 करोड़ डॉलर का फंड बनाया है। विप्रो में काम शुरू करने से पहले वो बेव कंपनी लंदन में काम करते थे। उन्होंने जीई कैपिटल के साथ भी काम किया है।  2014 में उनको वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने यंग ग्लोबल लीडर का अवार्ड दिया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट