बिज़नेस न्यूज़ » Industry » IT-TelecomTech in gadgets: अमेजन के बाद अब गूगल भी मैदान में, AI ऐसे बदलेगा आपकी लाइफ

Tech in gadgets: अमेजन के बाद अब गूगल भी मैदान में, AI ऐसे बदलेगा आपकी लाइफ

आने वाले दिनों में आर्टिफिशिएल इंटेलिजेंस हमारी-आपकी रोजमर्रा की जिंदगी की हिस्‍सा बनने जा रहा है...

1 of

नई दिल्‍ली। अमेजन के बाद अब गूगल ने भारत में अपना स्‍मार्ट स्‍पीकर हाल में लॉन्‍च कर दिया है। अमेजन की तरह यह भी आर्टिफिशिएल इंटेलिजेंस या AI से लैस स्‍पीकर होगा। मतलब एक बार आपके स्‍मार्टफोन फोन से जुड़ जाने के बाद यह यह स्‍पीकर आपकी वाइस कमांड पर काम करेगा। किसी बटन को पुश करने या स्‍टार्ट करने के लिए इसे ऑन या ऑफ करने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में कई और टेक कंपनियां इस टेक्‍नोलॉजी से लैस स्‍पीकर या अन्‍य प्रोडक्‍ट मार्केट में उतार सकती हैं। गूगल और उबर की मशहूर बिना ड्राइवर वाली कारें भी इसी टेक्‍नोलॉजी से लैस हैं।

 

मतलब साफ है कि आने वाले दिनों में आर्टिफिशिएल इंटेलिजेंस हमारी-आपकी रोजमर्रा की जिंदगी की हिस्‍सा बनने जा रहा है। ऐसे में हमारे आपके लिए जानना जरूरी हो जाता है कि आखिर यह टेक्‍नोलॉजी है क्‍या और यह कैसे काम करती है। टेक इन गैजेट के इस अंक में आज हम इसी के बारे में जानेंगे। इस बारे में हमने टेक एक्‍सपर्ट विकास खिरवडकर से बात की। विकास के मुताबिक, भारत के लिए यह टेक्‍नोलॉजी भले ही नई हो, लेकिन फिलहाल अमेरिका और यूरोप के मार्केट में यह तेजी से जगह बना रही है। जल्‍द ही भारत में भी हम आप इससे दो-चार हो जाएंगे। 

 

आखिर क्‍या है आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस?
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आने वाले दौर का एक ऐसा प्रोडक्‍ट है, जो आपके बहुत से कामों को अंजाम देगा। बुनियादी तौर पर यह एक वॉयस असिस्‍टेंट है। मतलब आपके कहने पर  आपके फोन या स्‍पीकर में गाना बजाएगा। आपको बताएगा कि आज बिल भरने की लास्‍ट डेट है। आप पिछले हफ्ते किन लोगों से मिले थे। आपका बच्‍चा किस दिन स्‍कूल नहीं गया था। पिछले महीने आपने घर की किश्‍त भरी थी या नहीं। घर के पास कौन सा रेस्‍टोरेंट है, जहां आप को वेज खाना मिलेगा। वह आपका टीवी भी ऑपरेट करेगा और कहेंगे तो आपके लिए ऑनलाइन शॉपिंग भी कर लेगा। फिलहाल कंपनियां टीवी, स्‍पीकर, फोन, लैपटॉप, कार से लेकर रोबोट तक में में इस टेक्‍नोलॉजी का यूज कर रही हैं।  


किस कंपनी के AI का क्‍या नाम है ? 
फिलहाल मार्केट में जिन कंपनियों के आर्टिफिशिएल इंटीलिजेंस सामने आए हैं, उनमें अमेजन, गूगल, एप्‍पल और माइक्रोसॉफ्ट के नाम शामिल हैं। इसमें अमेजन के AI का नाम एलेक्‍सा है तो गूगल के AI का नाम असिस्‍टेंट है। एप्‍पल ने अपने AI का नाम शीरी  रखा है तो माइक्रोसॉफ्ट ने इसका नाम टे या बूट रखा है।  
 
आपसे बात भी कर सकता है यह 
इसमें कई ऐसी खूबिययां हैं जो आपको बोर नहीं होने देती हैं। विकास के मुताबिक, चाहे अमेजन का एलेक्‍सा हो या फिर गूगल का असिस्‍टेंट हो। इनकी सबसे ज्‍यादा चर्चा इसलिए हो रही है, क्‍योंकि ये आपसे बात भी कर सकते हैं। आप इनसे मौसम का हाल पूछ सकते हैं। अपने लिए सामान की लिस्‍ट बनवा सकते हैं। कुछ आर्टिफिशिएल इंटेलिजेंस खास काम के लिए बने होते हैं। जैसे ड्राइवरलेस कारों में यूज होने वाले आर्टिफिशिएल इंटेलिजेंस कार चलाने में माहिर है, तो रोबोट में यूज होने वाला AI आपकी वाइक कमांड पर प्रतिक्रिया देने में। 

जल्‍द में हिंदी और भारतीय भाषाओं में दे सकेंगे कमांड 
भारत में सबसे ज्‍यादा चर्चा जिन दो AI  की हो रही है, उसमें अमेजन और गूगल के नाम हैं। दोनों कंपनियां इन्‍हें भारत की देसी भाषाओं के हिसाब से डेवलप कर रही हैं पिछले साल ब्‍लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आप एलेक्‍सा से पूछेंगे कि स्‍वतंत्रा दिवस कब है तो वह 15 अगस्‍त बताएगा न कि 4 जुलाई (अमेरिका का स्‍वतंत्रता दिवस)। उसे हल्‍दी और मसाले के बीच उतना ही अंतर पता है जितना किचेन में काम करने वाली आपकी मां और पत्‍नी को। अमेजन ने भारतीय भाषाओं में बात करने वाले ऐसे बहुत से स्‍पीकर भारत में भेजे भी हैं। यह अंग्रेजी भी भारतीय लहजे में बोलता है। ब्‍लूमबर्ग के मुताबिक, इसे हिंग्लिश बोलने की ट्रेनिंग दी गई है। अभी तक इंडियन मार्केट में गूगल का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस गूगल असिस्‍टेंट और एप्‍पल का शीरी भी आ चुका है, लेकिन ये दोनों अब भी अमेरिकन या ब्रिटिश लहजे में बात करते हैं, लेकिन एलेक्‍सा देसी भाषा में बात करेगा। 

 


 

 

 

 

 

अमेजन लॉन्‍च कर चुकी है कई प्रोडक्‍ट
अमेजन के ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का नाम एलेक्‍सा है। कंपनी अपने स्‍मार्ट स्‍पीकर (इको) के साथ इसे पेश कर चुकी है। एलेक्‍सा के चलते अमेजन का इको स्‍मार्ट स्‍पीकर तेजी के साथ पॉपुलर हो रहा है। अमेजन ने हाल में एलेक्‍सा से लैस कुछ और प्रॉडक्ट भी लॉन्‍च किए। इसमें इको स्‍मार्ट स्‍पीकर और नया फायर टीवी स्‍ट्रीमिंग बॉक्‍स शामिल है। 
 
ऐसे काम करता है एलेक्‍सा 
एलेक्‍सा को अमेजन ने वॉयस असिस्‍टेंट के तौर पर डेवलप किया है। इसका यूज करने के लिए आपको वाइस असिस्‍टेंट टेक्‍नोलॉजी या ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस अमेजन के अन्‍य प्रोडक्‍ट जैसे टीवी, स्‍पीकर, फ्रीज या लाइट लेनी होगी। एलेक्‍सा इन सबको अपने नेटवर्क से आपस में जोड़ लेगा। बस आप बोलेंगे कि एलेक्‍सा मुझे ये गाना सुनाओ। एलेक्‍सा आपके स्‍पीकर को कमांड देगा और गाना बजने लगेगा। आपके कहने पर एलेक्‍सा आपके घर की लाइट बंद कर देगा।  
 
 
फोन में करना होता है डाउनलोड 
अगर आप अमेजन के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस कोई डिवाइस खरीदते हैं तो सबसे पहले आपको अपने स्‍मार्टफोन में आपको एलेक्‍सा एप डाउनलोड करना होगा। इसके बाद आपको अमेजन की ओर से लॉन्‍च आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस डिवाइस को कनेक्‍ट करना होगा। इसे वाइस कमांड देने के लिए आपको अमेजन का स्‍पीकर इको लाना होगा। इको को एलेक्‍सा से कनेक्‍ट करने के बाद आप उसे कोई भी आदेश दे सकते हैं और वह आपकी हर बात पर रिस्‍पॉन्‍स करेगा।

 

 

 

एलेक्‍सा की तरह ही काम करता है गूगल होम थिएटर 
गूगल होम थिएटर भी कमोबेश अमेजन के एलेक्‍सा की तर्ज पर काम करता है। सबसे पहले आपको अपने स्‍मार्टफोन में इसका एप (गूगल होम) डाउनलोड करना होता है। इसके बाद इसे अपने स्‍पीकर से कनेक्‍ट करना होता है। आप इसे अपने स्‍मार्टटीवी या लैपटॉप से भी जोड़ सकते हैं। इसके बाद आप इसे गाना सुनाने के लिए कहें तो यह गाना सुनाने लगेगा। अगर आप इससे यू-ट्यूब पर कोई वीडियो चलाने के लिए कहें तो वीडियो आपकी कनेक्‍ट टीवी पर डिस्‍प्‍ले होने लगेगा। विकास के मुताबिक, यह टेक्‍नालॉजी अभी अपनी प्राइमरी पोजीशन में है। आने वाले दिनों में इसमें और फीचर्स देखने को मिलेंगे। लेकिन हमें इसके लिए तैयार रहना चाहिए। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट