Home » Industry » IT-Telecomafter Vodafone and idea merger the new data war will between ambani and birla impact of vodafone and idea merger on indian telecom market

JIO को टक्कर देने आई नई कंपनी, मित्तल नहीं अब बिड़ला से होगी अंबानी की टक्कर

NCLT ने आइडिया-वोडाफोन के मर्जर को मंजूरी, एयरटेल का नंबर वन का ताज छिना

1 of

नई दिल्ली. रिलायंस Jio ने 2 साल पहले मोबाइल की दुनिया में डाटा वार शुरू कर पूरी इंडस्ट्री की सूरत बदल डाली। तब जियो की मुख्‍य टक्कर सुनील भारती मित्तल की कंपनी भारती एयरटेल से थी। इससे कंज्यूमर्स को मोबाइल पर पहले से कई गुना सस्ते पर डाटा, वॉयस कॉल्स और अन्य सुविधाएं मिलने लगीं। हालांकि अब जियो की सीधी टक्कर एयरटेल से नहीं होगी। नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) ने आइडिया सेल्युलर और वोडाफोन के विलय को मंजूरी दे दी।  जानकार मानते हैं कि आने वाले दिनों में जियो के साथ जो डाटा वार होगी, वह जियो और एयरटेल के बीच न रहकर जियो और आइडिया-वोडाफोन के मर्जर से बनी नई कंपनी आइडिया वोडाफोन के बीच होगी।  इंडस्ट्री के जानकार मानते हैं कि अब यह टक्कर  ऐसे में आने वाले दिनों मोबाइल का इस्तेमाल और सस्ता हो सकता है। 

 

15 साल का एयरटेल का ताज छिना 

दूरसंचार विभाग के बाद अब  नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) ने वोडाफोन इंडिया और आइडिया सेल्युलर के मर्जर को मंजूरी दे दी है।  नई कंपनी वोडाफोन-आइडिया लि. के नाम से काम करेगी। गठन के साथ ही अब देश की सबसे बड़ी मोबाइल सर्विसेस ऑपरेटर के बनने का रास्ता साफ हो गया है। दोनों के मर्जर से जो नई कंपनी बनेगी, उसकी वैल्यू 1.5 लाख करोड़ रुपए होगी और वह देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम ऑपरेटर बन जाएगी। इसी के साथ ही करीब 15 साल से देश की नंबर वन टेलिकॉम कंपनी का ताज अब एयरटेल से छिन जाएगा।    

 

देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी 

वोडाफोन-आइडिया ने एक संयुक्त बयान में विलय की पुष्टि करते हुए दावा किया कि नई कंपनी 40 करोड़ 80 लाख ग्राहकों के साथ देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी बन गई है। नई कंपनी का पूरे देश से प्राप्त होनेवाला रेवेन्यू (AGR) 32.2% है जबकि नौ टेलिकॉम सर्कलों में यह नंबर 1 पर है।  इस विलय के बाद तीन बड़ी कंपनियों भारती एयरटेल, रिलायंस जियो और वोडा आइडिया के बीच देश के एक अरब से अधिक के ग्राहकों के लिए मारामारी होगी क्योंकि देश अब 3G से 4G की ओर बढ़ चुका है और काफी किफायती स्मार्टफोन बाजार में आ रहे हैं। डेटा खपत में बड़ी वृद्धि के बीच ग्राहकों को लुभाने की होड़ में कंपनियां सस्ते टैरिफ ऑफर करके नुकसान उठा रही हैं। 

 

आगे पढ़ें- अभी तक मार्केट के कौन किस स्थिति में है......  

अभी तक भारती एयरटेल थी नंबर 1

अभी भारत में वोडाफोन के सब्सक्राइबर्स की संख्या लगभग 22.20 करोड़ हैं। वहीं आइडिया के सब्सक्राइबर्स की संख्या 21.67 करोड़ है। फिलहाल 30.86 करोड़ सब्सक्राइबर्स के साथ भारती एयरटेल देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी है। जियो के पास करीब 19 करोड़ सब्सक्राइबर्स हैं। एयरसेल के 7.40 करोड़, टेलीनॉर इंडिया के 3.7 करोड़ और एमटीएनएल के करीब 30 लाख यूजर हैं।  

 

आगे पढ़ें, अभी किस कंपनी की क्या है स्थिति .........

 

 

मार्केट में हिस्‍सेदारी 
अभी वोडाफोन का मार्केट शेयर 18.82 फीसदी और आइडिया का मार्केट शेयर 17.85 फीसदी है। वहीं, एयरटेल का मार्केट शेयर अभी सबसे ज्यादा 25.70 फीसदी है, जबकि रिलायंस जियो का मार्केट शेयर 15.76 फीसदी है। बीएसएनएल व अन्य का 9.44 फीसदी और 12.44 फीसदी मार्केट शेयर है। मर्जर के बाद आइडिया-वोडाफोन का मार्केट शेयर 36.67 फीसदी हो जाएगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss