विज्ञापन
Home » Industry » IT-TelecomFollow these cyber security tips for safe internet banking

नेट बैंकिंग करते हैं तो फॉलो करें ये टिप्स, नहीं होंगे धोखाधड़ी का शिकार, दिल्ली पुलिस ने जारी की गाइडलाइन

आज है Safer Internet Day

1 of

नई दिल्ली.

नेट बैंकिंग से भले ही लोगों को घर बैठे बैंक के काम निपटाने की सहूलियत मिल गई है, लेकिन इसमें रिस्क भी काफी बढ़ गया है। आए दिन ऑनलाइन फ्रॉड की खबरें आती रहती है। अगर आप भी नेट बैंकिंग करते हैं तो आपके लिए कुछ टिप्स को फॉलो करना बहुत जरूरी है, ताकि आप ऑनलाइन जालसाजी का शिकार न बनें। दिल्ली पुलिस के साइबर क्राइम सेल ने नेट बैंकिंग यूजर्स के लिए साइबर सेफ्टी टिप्स जारी किए हैं।

- जिस फोन में आपका बैंकिंग ऐप्लीकेशन हो, उसे पासवर्ड प्रोटेक्ट करके रखें। गलत पासवर्ड डालने की लिमिट तीन तक सेट करें, ताकि अगर कोई तीन बार गलत पासवर्ड हो जाए तो फोन कुछ देर को बंद हो जाए।

 

- अपने अकाउंट और डाटा को सुरक्षित रखने के लिए ऐसा पासवर्ड चुनें जो कोई आसानी से सोच न सके।

 

- अपने अकाउंट स्टेटमेंट को लगातार चेक करते रहें ताकि किसी ट्रांजेक्शन के बारे में आपको पता चल सके।

 

- अपने पासवर्ड्स नियमित रूप से बदलते रहें।

 

- फोन गुम होने या चोरी होने की स्थिति में अपने नजदीकी सर्विस प्रावाइडर और लॉ एंफोर्समेंट एजेंसी के पास रिपोर्ट दर्ज कराएं।

 

- अपना PIN या कॉन्फिडेंशियल जानकारी किसी को फोन या इंटरनेट पर न बताएं। यह जानकारी किसी के साथ साझा न करें।

 

- आपके बैंक के नाम से अगर कोई ई-मेल आता है और उसमें कोई लिंक दी गई है, तो उस लिंक पर कभी क्लिक न करें।

 

- ऑनलाइन फंड ट्रांसफर करने से पहले जिस खाते में धन भेजना है उसकी पड़ताल कर लें। अगर गलत खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए तो रिकवरी नहीं हो सकती है।

 

- अपने फोन में कभी भी क्रेडिट कार्ड डिटेल्स, मोबाइल बैंकिंग पासवर्ड और यूजर आईडी को अलग फोल्डर बनाकर फोन में सेव न करें। ऐसा करने से अगर कभी आपका फोन चोरी हो जाता है तो चाेरों को आपकी निजी जानकारी बेहद आसानी से मिल जाएगी।

 

- अगर आप बैंक खाते से जुड़ा फोन नंबर बदलते हैं तो इसके बारे में बैंक को जरूर बताएं, जिससे बैंक आपके लेन-देन की जानकारी नए फोन नंबर पर भेज सके।

 

- जाने या अनजाने स्रोतों से आने वाले ईमेल या कॉलर ट्यून और डायलर ट्यून को खोलते समय सतर्कता बरतें।

 

- पब्लिक प्लेस में ब्लूटूथ का इस्तेमाल करते समय सतर्क रहें। कई बार हैकर्स ब्लूटूथ के जरिए भी आपकी गोपनीय जानकारी चुरा लेते हैं।

 

- कोई वेबसाइट चलाते वक्त सकर्त रहें। अगर वेबसाइट फर्जी दिखे तो उससे कुछ डाउनलोड न करें।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss