विज्ञापन
Home » Industry » IT-TelecomCable Tv Operators Rooting For Additional Service Charge To Pay Salaries To Employees

टीवी देखना हो सकता है और भी महंगा, केबल टीवी ऑपरेटर्स ने की उपभोक्ताओं पर सर्विस चार्ज लगाने की मांग

केबल नेटवर्क के रखरखाव और कर्मचारियों को सैलरी देने के लिए ऑपरेटर्स कर रहे सर्विस चार्ज की मांग

Cable Tv Operators Rooting For Additional Service Charge To Pay Salaries To Employees

Cable Tv Operators Rooting For Additional Service Charge To Maintain Network: टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के नए नियमों को लागू हुए दो महीने का समय हो चुका है। डीटीएच ऑपरेटर्स को मुनाफा हुआ है, लेकिन केबल टीवी ऑपरेटर्स की आय में भारी गिरावट हुई है। ऐसे में केबल टीवी ऑपरेटर्स ने ट्राई से मांग की है कि कस्टमर्स पर अतिरिक्त सर्विस चार्ज लगाया जाए, जिससे वे अपने कर्मचारियों की सैलरी दे सकें। अगर ट्राई ने केबल ऑपरेटर्स की इस मांग को मान लिया तो आपका टीवी देखना और भी महंगा हो जाएगा।

नई दिल्ली.

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के नए नियमों को लागू हुए दो महीने का समय हो चुका है। इन नियमों को लागू करने के पीछे ट्राई का तर्क दिया था कि इससे उपभोक्ताओं को ऑपरेटर्स दोनों को फायदा होगा। हालांकि कई लोगों ने शिकायतें दर्ज कराई हैं कि उनका टीवी बिल पहले से ज्यादा हो गया है और चैनलों की संख्या कम हो गई है। दूसरी तरफ डीटीएच ऑपरेटर्स को मुनाफा हुआ है, लेकिन केबल टीवी ऑपरेटर्स की आय में भारी गिरावट हुई है। ऐसे में केबल टीवी ऑपरेटर्स ने ट्राई से मांग की है कि कस्टमर्स पर अतिरिक्त सर्विस चार्ज लगाया जाए, जिससे वे अपने कर्मचारियों की सैलरी दे सकें। अगर ट्राई ने केबल ऑपरेटर्स की इस मांग को मान लिया तो आपका टीवी देखना और भी महंगा हो जाएगा।

 

सर्विस चार्ज से होगा नेटवर्क का रखरखाव

Times Network की रिपोर्ट के मुताबिक कोलकाता में केबल टीवी ऑपरेटर्स ने ट्राई को प्रस्ताव दिया है कि कस्टमर्स से सर्विस चार्ज लिया जाए। इस सर्विस चार्ज से केबल टीवी नेटवर्क के रखरखाव का सारा खर्च निकाला जाएगा। इस अतिरिक्त रकम से केबल टीवी ऑपरेटर्स न्यूनतम आय सुनिश्चत कर सकेंगे, जिससे वे अपने कर्मचरियों की तनख्वाह दे सकें।

 

यह भी पढ़ें- 7 हजार करोड़ लेकर दरवाजे पर खड़ी थी जापानी कंपनी, लेकिन भारतीय ने किया इनकार

 

45 फीसदी कम हुई केबल टीवी ऑपरेटर्स की आय

रिपोर्ट के मुताबिक ट्राई के नियमों के लागू होने के बाद के केबल टीवी ऑपरेटर्स की आय में 45 फीसदी तक की गिरावट हुई है। नए डीटीएच और केबल टीवी रेगुलेशन के तहत चैनल पैक की कीमत 99 रुपए से शुरू होती है। TRAI ने बेस पैक की न्यूनतम कीमत 130 रुपए तय की है। इसके आगे चैनल्स बढ़ाने पर ग्राहकों को नेटवर्क कैपेसिटी फीस सहित अतिरिक्त चार्ज देना होगा।

 

यह भी पढ़ें- Jio के बाद Reliance का नया धमाका, बसाएगी अपनी मेगासिटी, यहां होगा अंबानी का राज

 

20-25 रुपए हो सकता है सर्विस चार्ज

नए नियमों ने चैनल्स का रेट बढ़ाया है, लेकिन इसका फायदा केबल ऑपरेटर्स काे नहीं, बल्कि ब्रॉडकास्टर्स को मिल रहा है। सर्विस प्राेवाइड करने के लिए केबल ऑपरेटर्स को मुनाफे में से महज 20 फीसदी हिस्सा मिलता है। इससे केबल टीवी ऑपरेटर्स तगड़े घाटे में हैं। फिलहाल केबल ऑपरेटर्स ने 20 से 25 रुपए सर्विस चार्ज लेने का प्रस्ताव रखा है। ऑपरेटर्स का कहना है कि इससे वे अबाधित रूप से सेवाएं देना जारी रख सकेंगे।

 

यह भी पढ़ें- अंबानी को मिलेगी बड़ी चुनौती, 57 हजार करोड़ जमा कर रहे बिड़ला और मित्तल

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन