विज्ञापन
Home » Industry » E-CommerceBe careful! You can also get trapped in the review for the online shopping, the fake 5 star ratings are being cheated by the customer

फर्जीवाड़ा / सावधान!आप भी फंस सकते हैं ऑनलाइन शॉपिंग के लिए होने वाले रिव्यु के फेर में, फर्जी 5 स्टार रेटिंग से ठगे जा रहे हैं ग्राहक

फेसबुक ग्रुप के जरिए किया जाता है रिव्यु, लोग जिन्हें जानते हैं ऐसे उत्पादों की बढ़ाई जाती है रेटिंग

Be careful! You can also get trapped in the review for the online shopping, the fake 5 star ratings are being cheated by the customer

कई उत्पादों को मनमाने तरीके से रेटिंग देकर अमेजन के दुनियाभर में फैले 260 करोड़ ग्राहकों को फंसाया जा रहा है। 

नई दिल्ली. यदि आप ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए कंज्यूमर रिव्यू पर यकीन करते हैं तो सचेत हो जाइए। दरअसल, जिस प्रोडक्ट को खरीदने के लिए आपने रिव्यू को को देखा हो, वह ही फर्जी हो सकता है। वजह है, फेक न्यूज की ही तरह अब फेक रिव्यू भी चलन में आ जाना। दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के ऑनलाइन ग्राहकों को फेसबुक ग्रुप पर फेक रिव्यू के जरिए फंसाया जा रहा है। 

अनजानें प्रोडक्ट ने रिव्यु के दम पर सर्च में अपना वजूद कायम किया 

ब्रिटेन के कंज्यूमर एडवोकेसी ग्रुप विच समेत कई कंपनियों और उद्यमियों ने इस बात को माना है कि फेसबुक ग्रुप के जरिए अमेजन की साइट पर बिकने वाले प्रोडक्ट्स का फेक रिव्यू हो रहा है। कई उत्पादों को मनमाने तरीके से रेटिंग देकर अमेजन के दुनियाभर में फैले 260 करोड़ ग्राहकों को फंसाया जा रहा है। विच का दावा है कि उसने अमेजन की साइट पर बिकने वाले सैकड़ों टेक प्रोडक्ट्स का विश्लेषण किया और पाया कि कई अनजान से ब्रांड ने लोकप्रिय आइटम्स की सर्च में अपना वर्चस्व कायम कर लिया है। इतना ही नहीं, 87 हजार से ज्यादा लोग फेक रिव्यू करने में लगे हुए हैं। 

ऐसे ब्रांड जिनके बारे में एक्सपर्ट ने कभी सुना ही नहीं

विच के मुताबिक, सेलर्स ऐसे प्रोडक्ट्स की लिस्टिंग करा रहे हैं, जिनके साथ हजारों की संख्या में पॉजिटिव अनवेरिफाइड रिव्यू दिए गए हैं। इसका मतलब है कि अमेजन या किसी अन्य साइट पर खरीदे जाने वाले प्रोडक्ट का रिव्यू देने वाले लोगों का कोई प्रमाण नहीं है। जांच में सामने आया कि एक ही दिन में प्रोडक्ट पेजों पर सैकड़ों अनवेरिफाइड फाइव-स्टार रिव्यू पोस्ट किए गए। कई ऐसे प्रोडक्ट पेजेस पर भी पॉजिटिव रिव्यू नजर आए, जिनके आइटम्स एक-दूसरे से अलग थे। विच ने हेडफोन, स्मार्च वाच और वियरेबल डिवाइस सहित अमेजन पर लिस्ट 14 टेक प्रोडक्ट के लिए सर्च की। पहले पेज पर हेडफोन के लिए की गई सर्च में पाया कि प्रोडक्ट पर पहले बेस्ट रिव्यू दिए गए थे, जिसमें 100% ऐसे ब्रांड के आइटम बेचे जा रहे थे, जिनके बारे में एक्सपर्ट्स ने कभी नहीं सुना था। 

शिकायत पर फेसबुक ने कार्रवाई का भरोसा दिलाया 

फेक रिव्यू के मामले में फेसबुक का कहना है कि हम शिकायत मिलने के बाद हमारी नीतियों का उल्लंघन करने वाली सभी कोशिशों को नाकाम कर रहे हैं। जबकि अमेजन का कहना है कि हमारी प्रतिष्ठा को अगर नुकसान होगा, तो हम कानूनी कार्रवाई करने के लिए सक्षम हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन