Home »Industry »E-Commerce» Amazon Hike Third Party Sellers Commission Fees And Cancellation Charges

अमेजन ने बढ़ाई थर्ड पार्टी सेलर्स की कमीशन फीस, कुछ प्रोडक्‍ट के बढ़ सकते हैं दाम

अमेजन ने बढ़ाई थर्ड पार्टी सेलर्स की कमीशन फीस, कुछ प्रोडक्‍ट के बढ़ सकते हैं दाम
 
नई दि‍ल्‍ली। अमेजन इंडि‍या ने अपने थर्ड पार्टी मर्चेंट्स के लि‍ए पॉलि‍सी में बदलाव कि‍या है। कंपनी ने सभी कैटेगरीज के लि‍ए कमीशन रेट्स में करीब 50 फीसदी का औसतन इजाफा कि‍या है, वहीं कुछ सेगमेंट्स के लि‍ए यह इजाफा 100 फीसदी है। कमीशन के नए रेट्स अलगे महीने से प्रभावी होंगे। बीते छह महीने में ऐसा दूसरी बार है जब अमेजन ने कमीशन रेट्स को बढ़ाया है। इतना ही नहीं, अमेजन ने चुनिंदा शर्त और नि‍यमों के आधार पर सेलर्स के लि‍ए कैंसि‍लेशन फीस को भी बढ़ाने का फैसला लि‍या है। सेलर्स के मुताबि‍क, कमीशन फीस बढ़ने से प्रोडक्ट की कीमत में 25 से 30 रुपए तक का इजाफा हो सकता है।
 
कि‍तनी बढ़ेबी कैंसि‍लेशन फीस
 
अमेजन इंडि‍या ने कहा कि‍ सेलर्स अब आइटम की वैल्‍यू के हि‍साब से 8.5 फीसदी कैंसि‍लेशन फीस हो जाएगी जोकि‍ अभी 2.5 फीसदी है। दूसरे ऑनलाइन मार्केटप्‍लेस की तरह अमेजन इंडि‍या भी कैटेगरी के हि‍साब से सेलर्स से 5 फीसदी से 20 फीसदी कमीशन कमाते हैं।
 
सेलर्स ने क्‍या कहा
 
ऑल इंडि‍या ऑनलाइन वेंडर्स एसोसि‍एशन (AIOVA) ने बताया कि‍ अमेजन की ताजा पॉलि‍सी से कम कीमत वाले प्रोडक्‍ट्स पर ज्‍यादा असर पड़ेगा। उन्‍होंने यह भी कहा कि‍ वेंडर्स बढ़ती लागत को कंज्‍यूमर पर डालने के बारे में सोच सकते हैं।
 
उन्‍होंने यह भी कहा कि‍ थर्ड पार्टी सेलर्स के लि‍ए लगातार कमीशन में इजाफा होने से ऑनलाइन प्‍लैटफॉर्म पर क्‍लाउडटेल जैसे सेलर्स से मुकाबला नहीं कि‍या जा सकता है। यहां प्रति‍स्‍पर्धा को खत्‍म कि‍या जा रहा है। हमने इस मामले को कंपीटि‍शन कमीशन ऑफ इंडि‍या (सीसीआई) के सामने रखा है क्‍योंकि‍ कॉमर्स मि‍नि‍स्‍ट्री इस मामले में हस्‍तक्षेप नहीं कर रही है। गौरतलब है कि‍ क्‍लाउटेल, अमेजन के सबसे बड़े सेलर्स में से एक है। यह अमेजन और एन आर नारायण मूर्ति‍ के कैटमारन वेंचर्स का ज्‍वाइंट वेंचर है। 

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY