बिज़नेस न्यूज़ » Industry » E-CommerceFlipkart जल्‍द अपने कस्टमर्स-सेलर्स को देगी लोन और इंश्‍योरेंस, बनाएगी खास प्रोडक्ट

Flipkart जल्‍द अपने कस्टमर्स-सेलर्स को देगी लोन और इंश्‍योरेंस, बनाएगी खास प्रोडक्ट

Flipkart ने NBFC लाइसेंस के लि‍ए अप्‍लाई की प्रक्रि‍या को शुरू भी कर दि‍या है।

Ecommerce major Flipkart will soon offer credit and insurance products

नई दि‍ल्‍ली। देश की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी Flipkart (फ्लि‍पकार्ट) फाइनेंशि‍यल सर्वि‍सेज सेक्‍टर में उतरने की तैयारी में है। कंपनी अपने प्‍लेटफॉर्म पर कंज्‍यूमर्स और सेलर्स को क्रेडिट 

और इंश्‍योरेंस प्रोडक्‍ट्स का ऑफर देगी। फ्लि‍पकार्ट ने इसके लि‍ए नॉन-बैंकिंग फाइनेंशि‍यल कंपनी (NBFC) लाइसेंस के लि‍ए अप्‍लाई की प्रक्रि‍या को शुरू भी कर दि‍या है। इसकी मदद से कंपनी अपने 10 लाख कस्‍टमर्स और 1 लाख से ज्‍यादा सेलर्स को क्रेडि‍ट और इंश्‍योरेंस प्रोडक्‍ट्स दे पाएगी। ऐसे में फ्लि‍पकार्ट सीधे तौर पर पेटीएम और बजाज फि‍नसर्व जैसी कंपनि‍यों को टक्कर देगी।   

 

कंपनी का क्‍या है कहना

 

कस्‍टमर्स को ई-कॉमर्स सर्वि‍सेज देने के साथ-साथ इंश्‍योरेंस की सुवि‍धा देने के लि‍ए कंपनी इंश्‍योरेंस कंपनि‍यों के साथ पार्टनरशि‍प भी कर रही है, ताकि‍ माइक्रो-इंश्‍योरेंस प्रोडक्‍ट्स का ऑफर दि‍या जा सके। फ्लि‍पकार्ट के वरि‍ष्‍ठ अधि‍कारी ने कहा कि‍ फ्लि‍पकार्ट में हमारा मकसद अपने कस्‍टमर्स (कंज्यूमर्स और सेलर्स दोनों) के लि‍ए अलग तरह के फाइनेंशि‍यल सॉल्‍यूशन देना है। टेक्‍नोलॉजी और डाटा की मदद से इन्‍हें आसान और पारदर्शी बनाया जाएगा। कस्‍टमर्स की सोच से हमें क्रेडि‍ट रि‍स्‍क प्रोफाइल बनाने में मदद मि‍लेगी।  

 

कि‍स तरह के इंश्‍योरेंस प्रोडक्‍ट देगी कंपनी

 

इंश्‍योरेंस के लि‍ए कंपनी चुनिंदा इंश्‍योरेंस कंपनियों के साथ अपने प्लेटफॉर्म पर कुछ खास तरह की शॉपिंग पर यह सुविधा देगी। उदाहरण के लिए कंज्‍यूमर्स फ्लिपकार्ट पर अपने स्मार्टफोन के लिए इंश्‍योरेंस प्‍लान को खरीद सकते हैं। कंपनी ने कहा कि फ्लिपकार्ट की योजना साधारण और जीवन बीमा सेक्‍टर में भी उतरने की है। 

 

कंपनी पॉलिसीबाजार, बैंकबाजार या फिर कवरफॉक्स की तरह एग्रीगेटर बनने की जगह खुद को कुछ चुनिंदा पॉलिसियों तक ही सीमित रखेगी। फ्लिपकार्ट फाइनेंशि‍यल सर्वि‍सेज के सेक्‍टर में अपने कुछ प्रोडक्‍ट अगले 3 महीने में उतारेगी। उसकी नजर कंज्‍यूमर्स, सेलर्स और इंश्‍योरेंस तीनों कैटेगरीज पर है।

 

कुछ मि‍नट में मि‍लेगा लोन

 

मौजूदा समय में फ्लि‍पकार्ट पर शॉपिंग करने वाले 60 फीसदी से ज्‍यादा कंज्‍यूमर्स के पास औपचारि‍क क्रेडि‍ट तक की पहुंच नहीं है। इसकी वजह से कंपनी के प्‍लेटफॉर्म पर बड़ी खरीद नहीं हो पाती है। फ्लिपकार्ट ने सेलर्स के लिए लोन देने का प्रोग्राम शुरू किया था लेकिन उन्हें लोन मिलने की धीमी रफ्तार को देखते हुए इसे बंद कर दिया गया। कंपनी के नए उत्पादों से सेलर्स को लोन मिलने में लगने वाले समय में कमी आएगी। उन्हें कुछ दिन के बजाय कुछ मिनटों या कुछ सेकंड में ही लोन मिल जाएगा।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट