बिज़नेस न्यूज़ » Industry » E-Commerceहर तीसरे ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले को मि‍ल रहा है नकली सामान, सर्वे में खुलासा

हर तीसरे ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले को मि‍ल रहा है नकली सामान, सर्वे में खुलासा

ई-कॉमर्स कंपनि‍यों पर नकली प्रोडक्‍ट्स बि‍कने की शि‍कायत बढ़ती जा रही है।

Counterfeit products dominate sales on ecommerce in last one year

   

नई दि‍ल्‍ली। बढ़ती ऑनलाइन शॉपिंग के साथ-साथ कस्टमर की प्रोडक्ट को लेकर शिकायतें भी बढ़ती जा रही है। हाल ही में किए गए एक सर्वे के अनुसार हर तीसरा कस्टमर नकली प्रोडक्ट खरीद रहा है। हैवी डिस्काउंट के चक्कर में कई सेलर्स ऐसा कर रहे हैं। इस बात का खुलासा लोकल सर्किल्स के सर्वे में हुआ है। कंपनी ने 12 हजार यूनिक कंज्यूमर्स पर ये सर्वे किया है। जिसमें से करीब 7000 लोगों ने रिस्पांस किया। उसमें से 38% कस्टमर ने माना है कि उन्हें ऑनलाइन शॉपिंग पर नकली प्रोडक्ट मिले हैं।

 

 

सर्वे में लोगों ने क्‍या कहा  

 

पहले पोल में 6,923 लोगों में से 38 फीसदी कंज्‍यूमर्स ने कहा कि‍ उन्हें बीते एक साल में ई-कॉमर्स साइट से नकली प्रोडक्‍ट मि‍ले हैं। 45 फीसदी ने कहा कि‍ उनके साथ ऐसा नहीं हुआ है जबकि‍ 17 फीसदी ने कहा है कि‍ वह इसके बारे में कुछ नहीं जानते।   

 

कि‍स कंपनी पर ज्‍यादा नकली प्रोडक्‍ट

 

लोगों से जब यह पूछा गया कि‍ कौन सी बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी ने बीते एक साल में नकली प्रोडक्‍ट भेजा है, तो जवाब में 12 फीसदी ने स्‍नैपडील, 11 फीसदी ने अमेजन और 6 फीसदी ने कहा फ्लि‍पकार्ट। 71 फीसदी लोग ऐसे हैं जो या तो ऑनलाइन शॉपिंग नहीं करते या उन्हें नकली प्रोडक्‍ट नहीं मि‍ला है। 

 

 

कि‍स कैटेगरी के समान सबसे ज्‍यादा नकली

 

सर्वे में कहा गया है कि‍ नकली प्रोडक्‍ट्स की कैटेगरी में सबसे ऊपर परफ्यूम और दूसरे फ्रेंगनेंस हैं। इसके बाद शूज और स्‍पोर्टिंग गुड्स। वहीं, 51 फीसदी ने कहा कि‍ दूसरे कैटेगरी के प्रोडक्‍ट जैसे फैशन, अपैरल, बैग्‍स, गैजेट्स आदि‍ में नकली समान मि‍लता है।

 

हाई कोर्ट सेलर को कर चुका है बैन

 

सर्वे के अनुसार साल 2014 में दि‍ल्‍ली हाई कोर्ट ने एक सेलर को बैन कि‍या था जोकि‍ शॉपक्‍लूज.कॉम पर अपने हर प्रोडक्‍ट के लि‍ए L'Oreal  नाम यूज कर रहा था। वहीं, हाल ही में अमेरि‍का के लाइफस्‍टाइल और फुटवि‍यर ब्रांड    Skechers ने फ्लि‍पकार्ट और चार सेलर्स को अपने प्‍लेटफॉर्म पर उनके नकली प्रोडक्‍ट्स बेचने का आरोप लगाया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट