Unicorn Club में शामि‍ल हो सकती हैं Byju, Policybazaar, Paytm Mall समेत 10 कंपनि‍यां, 1 अरब डॉलर हो जाएंगी वैल्‍यू

डोमेस्‍टि‍क स्‍टार्टअप ईकोसि‍स्‍टम में करीब 20 Unicorn मेेंबर्स हो सकते हैं। इसमें Byju, Policybazaar, Paytm Mall, डेलीवेरी जैसी कंपनि‍यां शामि‍ल हैं। यह इस बात को दर्शाता है कि‍ एक बार फि‍र स्‍टार्टअप ईकोसि‍स्‍टम रफ्तार पकड़ेगा।

MoneyBhaskar

Jun 29,2018 11:17:00 AM IST
नई दि‍ल्‍ली। भारत के Unicorn Club (1 अरब डॉलर की वैल्‍यू वाले स्‍टार्टअप) में शामि‍ल होने वाली कंपनि‍यां डबल हो सकती हैं। दो साल के सुस्‍त बाजार के बाद इस साल डोमेस्‍टि‍क स्‍टार्टअप ईकोसि‍स्‍टम में करीब 20 Unicorn मेेंबर्स हो सकते हैं। इसमें Byju, Policybazaar, Paytm Mall, डेलीवेरी जैसी कंपनि‍यां शामि‍ल हैं। यह इस बात को दर्शाता है कि‍ एक बार फि‍र स्‍टार्टअप ईकोसि‍स्‍टम रफ्तार पकड़ेगा।
इन सेक्‍टर्स से आएंगे नए यूनि‍कॉर्न
सॉफ्टवेयर, लॉजि‍स्‍टि‍क्‍स और फाइनेंशि‍यल टेक्‍नोलॉजी, ऑनलाइन कॉमर्स और एडवर्टाइजिंग मॉडल्‍स से नए यूनि‍कॉर्न आएंगे। एजुकेशन टेक्‍नोलॉजी प्‍लेटफॉर्म Byju, ऑनलाइन फूड-डि‍लि‍वरी कंपनी Swiggy, ऑनलाइन फाइनेंशि‍यल मार्केटप्‍लेस Policybazaar और ऑनलाइन टू ऑफलाइन रि‍टेल मार्केटप्‍लेस Paytm Mall इस साल क्‍लब में शामि‍ल हो सकती हैं।
कम से कम सात अन्‍य कंपनि‍यां- ग्रॉसरी रि‍टेलर बि‍गबास्‍केट, बजट होटल चेन ओयो रूम्‍स, सॉफ्टवेयर सर्वि‍स कंपनी फ्रेशवर्क्‍स और टेक संबंधि‍त लॉजि‍स्‍टि‍क कंपनी डेलीवेरी भी इस साल के अंत तक बि‍लि‍यन डॉलर कंपनि‍यां बन सकती हैं।
भारत की यूनि‍कॉर्न कंपनि‍यां
साल कंपनी
2011 InMobi
2013 फ्लि‍पकार्ट, Mu Sigma
2014 स्नैपडील
2015 पेटीएम, ओला, क्‍वि‍कर, जोमैटो
2016 शॉपक्‍लूज, हाइक
इन कंपनि‍यों की वजह से मि‍ली मदद
यूनि‍कॉर्न क्‍लब में शामि‍ल होने वाली कंपनि‍यों को फ्लि‍पकार्ट, अमेजन इंडि‍या, ओला और उबर जैसे बड़ी इंटरनेट कंपनि‍यों की ओर से दि‍ए गए अरबों डॉलर के डि‍स्‍काउंट का फायदा मि‍ला है। इन कंपनि‍यों ने कस्‍टमर्स को ऑनलाइन ट्रांजैक्‍शन करने के लि‍ए प्रोत्‍साहि‍त कि‍या, जि‍सकी वजह से ऑनलाइन पेमेंट्स प्रोसेसर बि‍लडेस्‍क और डेलीवेरी जैसी कंपनि‍यों को सीधे तौर पर फायदा हुआ है। बीते 4 से 5 साल ई-कॉमर्स में कस्‍टमर की आदतों में बदलाव आया है, जि‍सका फायदा इन कंपनि‍यों को मि‍ला है।
प्रॉफि‍टेबल कंपनि‍यां
एंत्रप्रेन्‍योर्स ने कहा कि‍ इन कंपनि‍यों को SaaS जैसे सेक्‍टर्स की तरह इन्‍वेस्‍टर्स के ध्‍यान की जरूरत है। वेचर कैपि‍टल इन्‍वेस्‍टर्स के मुताबि‍क, नए यूनि‍कॉर्न ने मजबूत कस्‍टमर बेस बना लि‍या है क्‍योंकि‍ इन में कई अलग तरह के वर्टि‍कल्‍स में काम कर रहे हैं। इसके अलावा, इनमें कुछ कंपनि‍यों को ग्‍लोबल कॉम्पिटीशन का भी मुकाबला करना पड़ रहा है। ऐसा पहले के यूनि‍कॉर्न के साथ नहीं हुआ।
पहले की बड़े की इंटरनेट कंपनि‍यों से अलग डाटा एनालि‍टि‍क्‍स कंपनी Mu Sigma यूनि‍कॉर्न बनने से पहले ही प्रॉफि‍ट में आ गई थी। इसी तरह कम से कम तीन कंपनि‍यां- पॉलि‍सीबाजार, बि‍लडेस्‍क और पाइन लैब्‍स पहले ही प्रॉफिट में आने के करीब पहुंच गई हैं। कई अन्‍य कंपनि‍यां जैसे Byju और डेलीवेरी भी प्रॉफि‍टेबल होने का टारगेट लेकर चल रही हैं।

X
COMMENT

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.