Home » Industry » E-CommerceFlipkart founders may have to pay 20 per cent capital gains tax

फ्लिपकार्ट की बिक्री आ सकती है टैक्‍स के दायरे में, फाउंडर को चुकाना पड़ेगा 20 फीसदी LTCG

फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर सचिन और बिन्‍नी बंसल पर वालमार्ट को कंपनी बेचने से मिले पैसों पर टैक्‍स देना पड़ सकता है।

1 of

नई दिल्‍ली. फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर सचिन और बिन्‍नी बंसल पर वालमार्ट को कंपनी बेचने से मिले पैसों पर 20 फीसदी टैक्‍स देना पड़ सकता है। टैक्‍स एक्‍सपर्ट्स के अनुसार इस बिक्री से होने वाले फायदे पर कैपिटल गेन टैक्‍स लगेगा। 

 

 

वालमार्ट को बेचने जा रही है हिस्‍सेदारी

फ्लिपकार्ट अपनी हिस्‍सेदारी अमेरिकी कंपनी वालमार्ट को बेचने के लिए चर्चा में है। इस संबंध में शीघ्र ही घोषणा हो सकती है। फ्लिपकार्ट के कई सारे निवेशकों की हिस्‍सेदारी वालमार्ट खरीद सकता है। इसमें टाइगर ग्‍लाेबल और जापानी सॉफ्टबैंक शामिल हैं। सूत्रों के अनुसार इन लोगों के पास फ्लिपकार्ट की करीब 60 से 80 फीसदी हिस्‍सेदारी है। यह सौदा 12 अरब डालर में हो सकता है। 

 

 

टैक्‍स को लेकर हैं दो संभावनाएं

टैक्‍स एक्‍सपर्ट्स के अनुसार इस सौदे में टैक्‍स लगने की दो संभावनाएं हैं। पहली है कि सेलर यानी फ्लिपकार्ट पर इस सौदे से होने वाले मुनाफे पर कैपिटल गैन टैक्‍स लगे। दूसरा हो सकता है कि फ्लिपकार्ट अपने लॉस को कैरी फारवर्ड करें और इसको अभी तक दिए गए इनकम टैक्‍स से एडजेस्‍ट करने की मांग करे। 

 

 

विदेशी निवेशकों पर टैक्‍स 

नागिया एंड कंपनी के डायरेक्‍टर चिराग नागिया के अनुसार फ्लिपकार्ट में विदेशी निवशकों पर टैक्‍स अगल तरीके से लगेगा। पहले यह देखना होगा विदेशी निवेशकों का पैसा किस देश के रास्‍ते से आया है। इसके बाद उस देश के टैैक्‍स ट्रीटी के अनुसार लगेगा। उन्‍होंने कहा कि अगर फ्लिपकार्ट के प्रमोटर अपनी हिस्‍सेदारी भारतीय नागरिक के रूप में बेचते हैं तो उनको भारत में इनकम टैक्‍स चुकाना होगा। इसके लिए इस सौदे से होने वाले कैपिटल गैन पर उनको टैक्‍स देना होगा। 


वहीं ट्रांजैक्‍शन स्‍कॉयर के गिरीश वानवारी के अनुसार इस मामले में सचिन और बिन्‍नी बंसल पर कैपिटल गैन टैक्‍स लगेगा। यह होने वाले कैपिटल गैन पर 20 फीसदी होगा। 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss